scorecardresearch
 

बंगलुरु: स्कूल टॉयलेट में पहली कक्षा के छात्र का यौन शोषण

कर्नाटक की राजधानी बंगलुरु में पहली कक्षा के छात्र के साथ यौन शोषण का सनसनीखेज मामला सामने आया है. पीड़ित बच्चे के पिता की तहरीर पर पुलिस ने आरोपी के खिलाफ आईपीसी और पॉक्सो एक्ट की धारा 8 और 10 के तहत केस दर्ज कर लिया है.

बंगलुरु में पहली कक्षा के छात्र के प्राइवेट पार्ट के साथ छेड़छाड़ बंगलुरु में पहली कक्षा के छात्र के प्राइवेट पार्ट के साथ छेड़छाड़

कर्नाटक की राजधानी बंगलुरु में पहली कक्षा के छात्र के साथ यौन शोषण का सनसनीखेज मामला सामने आया है. पीड़ित बच्चे के पिता की तहरीर पर पुलिस ने आरोपी के खिलाफ आईपीसी और पॉक्सो एक्ट की धारा 8 और 10 के तहत केस दर्ज कर लिया है. आरोपी को गिरफ्तार करके पूछताछ की जा रही है.

जानकारी के मुताबिक, बंगलुरु शहर के हेन्नुर थाना क्षेत्र में पड़ने वाले एक स्कूल में एक छात्र पहली कक्षा में पढ़ता है. उसके पिता की तहरीर के मुताबिक, वह स्कूल के टॉयलेट में गया हुआ था. वहां एक शख्स ने बच्चे के प्राइवेट पार्ट्स के साथ छेड़छाड़ करते हुए उसका यौन शोषण किया. इसके बाद वहां से फरार हो गया.

पुलिस ने बताया कि पीड़ित बच्चे के पिता की तहरीर पर आरोपी श्रीनिवास के खिलाफ आईपीसी और पॉक्सो एक्ट की विभिन्न धाराओं के तहत केस दर्ज करके गिरफ्तार कर लिया है. आरोपी स्कूल में पार्ट टाइम काम करने आया करता था. उससे पूछताछ की जा रही है कि कहीं उसने किसी और छात्र के साथ तो ऐसा नहीं किया है.

बताते चलें कि गुरुग्राम के एक स्कूल में मासूम बच्चे के साथ खौफनाक घटना घटी थी. सातवीं क्लास में पढ़ने वाले मासूम प्रिंस की स्कूल के टॉयलेट में गला काटकर हत्या कर दी गई थी. इस मामले में पहले स्कूल बस के कंडक्टर को पुलिस ने गिरफ्तार किया था, लेकिन बाद में इस मामले की जांच सीबीआई को दे दी गई.

सीबीआई ने अपनी जांच के बाद उसी स्कूल के 11वीं के एक छात्र को प्रिंस की हत्या के आरोप में गिरफ्तार करते हुए बस कंडक्टर को क्लीन चिट दे दिया था. हाल ही में बस कंडक्टर को कोर्ट ने इस मामले से बरी कर दिया है. आरोपी छात्र ने बताया था कि स्कूल में होने वाली परीक्षा टालने और छुट्टी कराने के लिए उसने हत्या की थी.

इसी तरह यूपी की राजधानी लखनऊ के ब्राइटलैंड स्कूल में दिल दहला देने वाली घटना घटी थी. यहां भी पहली कक्षा के एक छात्र को स्कूल में चाकू मार दिया गया. 7वीं कक्षा में पढ़ने वाली आरोपी छात्रा ने बताया कि वह स्कूल में छुट्टी कराना चाहती थी. इसलिए प्रिंसिपल से मिलने के बहाने छात्र को टॉयलेट में ले गई.

वहां उसके मुंह में कपड़ा ठूंसकर उसे चाकुओं से गोद दिया. फिर टॉयलेट के अंदर उसे बंदकर बाहर निकल आई. उसी वक्त टॉयलेट के पास से गुजर रहे एक टीचर ने पीड़ित की आवाज सुनी. टीचर ने तुरंत दरवाजा खोला, तो देखा कि छात्र खून से लथपथ पड़ा हुआ है. उन्होंने तुरंत स्कूल प्रशासन को इस वारदात के बारे में सूचित किया था.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें