scorecardresearch
 

MP हनी ट्रैप केस में दूसरी गिरफ्तारी, आरोपी महिला को दिया था CCTV

दिल्ली पुलिस ने सांसद हनी ट्रैप केस में शनिवार सुबह दूसरी गिरफ्तारी की है. पकड़े गए आरोपी ने ही महिला को सीसीटीवी कैमरा और अन्य सामान मुहैया करवाया था.

सांसद को किया था ब्लैकमेल सांसद को किया था ब्लैकमेल

दिल्ली पुलिस ने सांसद हनी ट्रैप केस में शनिवार सुबह दूसरी गिरफ्तारी की है. पकड़े गए आरोपी ने ही महिला को सीसीटीवी कैमरा और अन्य सामान मुहैया करवाया था.

आरोपी का नाम अजय पाल है. अजय को शनिवार को तीस हजारी कोर्ट में पेश किया गया. पुलिस की मानें तो ब्लैकमेलिंग के धंधे का अजय शातिर खिलाड़ी है. किस सफेदपोश को अपना शिकार बनाना है और किसके पास कितनी प्रॉपर्टी है, अजय सब जानकारी रखता था.

अपने शिकार को कैसे जाल में फंसाना है, इसका पूरा खाका अजय पाल आरोपी महिला के साथ मिलकर पहले ही तैयार कर लेता था. दोनों आरोपी अपने हाई-प्रोफाइल शिकार को ठगने में इंटरनेट का भी सहारा लेते थे. पुलिस के अनुसार, अजय ही रूम से लेकर वीडियो रिकॉर्डिंग तक के सारे इंतजाम करता था.

पुलिस ने बताया कि अजय नेता बनना चाहता था लेकिन एक पार्टी से टिकट न मिल पाने की वजह से उसकी वो ख्वाहिश अधूरी रह गई. अजय ने नोएडा में बी.टेक. सॉल्यूशन नाम की एक कंपनी बनाई. इसी दौरान एक लड़की के जरिए उसकी आरोपी महिला से मुलाकात हुई थी.

वसूली के पैसों से दोनों मौज-मस्ती करते थे. पुलिस की मानें तो साल 2015 में दोनों एक साथ मलेशिया भी घूमने जा चुके हैं. फिलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है. पुलिस जल्द इस मामले में कई और गिरफ्तारियां कर सकती है.

क्या था मामला
मई माह की शुरूआत में गुजरात से बीजेपी सांसद केसी पटेल ने एक महिला के खिलाफ शिकायत दर्ज करवाई थी. सांसद ने शिकायत में बताया कि वह हनी ट्रैप का शिकार हो गए हैं. आरोपी महिला उनसे पांच करोड़ रुपये मांग रही है. शिकायत मिलने के बाद दिल्ली पुलिस ने महिला के खिलाफ FIR दर्ज की थी.

घर बुलाकर बनाया सेक्स टेप
आरोपों के मुताबिक, महिला ने सांसद को अपने घर बुलाकर उनका सेक्स टेप बनाया था. जिसको सार्वजनिक न करने के एवज में वह रुपयों की मांग कर रही थी. वहीं मामले का खुलासा होने के बाद आरोपी महिला ने 'आजतक' को दिए इंटरव्यू में सांसद के आरोपों को बेबुनियाद बताया.

सांसद पर लगाया रेप का आरोप
महिला ने सांसद पर कई बार रेप करने का आरोप लगाया. महिला ने अपने बचाव में सेक्स टेप बनाने की बात कही. केस की जांच के दौरान दिल्ली पुलिस को पता चला कि यह महिला ब्लैकमेलिंग के किसी गैंग से जुड़ी है. इनके गैंग में एक अन्य लड़की और मुजफ्फरनगर निवासी एक बदमाश भी शामिल है.

पहले भी कर चुकी है ब्लैकमेल
ब्लैकमेलर महिला इससे पहले करीब 25 नेताओं और बिजनेसमैन को हनी ट्रैप के जरिए ब्लैकमेल कर चुकी है. सूत्रों की मानें तो इसने उत्तराखंड सरकार में मंत्री हरक सिंह रावत और एमपी शादीलाल बत्रा को भी ब्लैकमेल किया था. इन दोनों मामलों में सफदरजंग पुलिस स्टेशन और तिलकमार्ग थाने में FIR दर्ज हुई थी.

घर से मिला था आपत्तिजनक सामान
जांच के दौरान पुलिस को महिला के घर से कई स्पाई कैमरे, डिजिटल वीडियो रिकॉर्डर (डीवीआर), वियाग्रा की गोलियां और कंडोम बरामद हुए थे. फिलहाल महिला न्यायिक हिरासत में है. दिल्ली पुलिस खुद को पेशे से वकील बताने वाली आरोपी महिला के दस्तावेजों की जांच कर रही है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें