scorecardresearch
 

आरुषि-हेमराज मर्डर केस में तलवार दंपति की अपील पर आएगा हाईकोर्ट का फैसला

नोएडा के बहुचर्चित आरुषि और हेमराज हत्याकांड के मामले में इलाहाबाद उच्च न्यायालय राजेश तलवार और नुपुर तलवार की अपील पर कल फैसला सुना सकता है. तलवार दंपति ने सीबीआई अदालत के फैसले के खिलाफ हाईकोर्ट में अपील की थी.

तलवार दंपति ने सीबीआई कोर्ट के फैसले को हाईकोर्ट में चुनौती दी है तलवार दंपति ने सीबीआई कोर्ट के फैसले को हाईकोर्ट में चुनौती दी है

नोएडा के बहुचर्चित आरुषि एवं हेमराज हत्याकांड के मामले में इलाहाबाद उच्च न्यायालय राजेश तलवार और नुपुर तलवार की अपील पर गुरुवार को फैसला सुना सकता है. तलवार दंपति ने सीबीआई अदालत के फैसले के खिलाफ हाईकोर्ट में अपील की थी.

गाजियाबाद स्थित विशेष सीबीआई अदालत ने आरुषि हत्याकांड में 26 नवंबर, 2013 को राजेश और नुपुर को उम्रकैद की सजा सुनाई थी. इससे एक दिन पहले ही दोनों को दोषी ठहराया गया था. आरुषि इनकी बेटी थी.

इस हत्याकांड के मामले में सीबीआई की विशेष अदालत ने आरुषि के माता-पिता राजेश और नुपुर को ही दोषी माना था. फिलहाल ने दोनों गाजियाबाद की डासना जेल में सजा काट रहे हैं.

न्यायमूर्ति बीके नारायण और न्यायमूर्ति एके मिश्रा की खंडपीठ ने तलवार दंपति की अपील पर सात सितंबर को अपना फैसला सुरक्षित रख लिया था और फैसला सुनाने की तारीख 12 अक्तूबर तय की थी.

बताते चलें कि मई, 2008 में नोएडा के जलवायु विहार इलाके में 14 साल की आरुषि का शव उसके घर से बरामद हुआ था. शुरुआत में शक की सुई घर के नौकर हेमराज की ओर गई, लेकिन दो दिन बाद मकान की छत से हेमराज की लाश भी बरामद हुई थी.

यह मामला उस वक्त खूब सुर्खियों में छाया रहा था. जिसके बाद उत्तर प्रदेश की तत्कालीन मुख्यमंत्री मायावती ने इस हत्याकांड की जांच सीबीआई को सौंपी थी. तभी से यह मामला कोर्ट में चल रहा है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें