scorecardresearch
 

मायके लौटी दुल्हन से घर में ही गैंगरेप, हाथ-पैर बांध जिंदा जलाया

जब काफी देर तक आशा ने दरवाजा नहीं खोला तो उसके पिता पीछे की तरफ से सीढ़ी लगाकर अंदर दाखिल हुए. अंदर का मंजर देख उनके पैरों तले जमीन खिसक गई. चारपाई पर बेटी का शव नग्न हालत में जल रहा था. बेटी के हाथ-पैर बंधे थे, मुंह में कपड़ा ठूंसा हुआ था.

गैंगरेप के बाद नवविवाहिता को चारपाई से बांधकर जला दिया गैंगरेप के बाद नवविवाहिता को चारपाई से बांधकर जला दिया

एंटी रोमियो स्क्वॉड वाले राज्य यूपी में महिलाओं के साथ होने वाले अपराध थमने का नाम नहीं ले रहे हैं. ताजा मामला कौशांबी जिले का है. यहां कुछ बदमाशों ने घर में सो रही नवविवाहिता के साथ पहले गैंगरेप किया और फिर हाथ-पैर बांधकर उसे जला दिया.

बेखौफ अपराधियों की खौफनाक करतूत
यूपी में योगी सरकार को सबसे बड़ी चुनौती उनके विपक्षी दलों से नहीं बल्कि बढ़ते अपराध के ग्राफ से मिल रही है. बेखौफ अपराधियों की ऐसी करतूत सुनकर किसी का भी कलेजा सिहर जाए. गैंगरेप और बेरहमी से कत्ल की दिल दहला देने वाली यह वारदात कौशांबी के सिंघवल थाना क्षेत्र स्थित पूरा गांव की है.

15 दिन पहले हुई थी शादी
मिली जानकारी के अनुसार, छेदू पटेल की छोटी बेटी आशा (20) की 15 दिन पहले ही जगन्नाथपुर निवासी जसवंत के साथ शादी हुई थी. आशा 7 मई को ससुराल से मायके आई थी. गुरुवार रात आशा घर के आंगन में चारपाई पर सो रही थी. मां बाहर सो रही थी और पिता खेतों में सोने चले गए थे.

नग्न हालत में जल रहा था शव
शुक्रवार सुबह जब काफी देर तक आशा ने दरवाजा नहीं खोला तो उसके पिता पीछे की तरफ से सीढ़ी लगाकर अंदर दाखिल हुए. अंदर का मंजर देख उनके पैरों तले जमीन खिसक गई. चारपाई पर बेटी का शव नग्न हालत में जल रहा था. बेटी के हाथ-पैर बंधे थे, मुंह में कपड़ा ठूंसा हुआ था.

पड़ोसियों की मदद से बुझाई आग
किसी तरह पड़ोसियों की मदद से छेदू पटेल ने आग बुझाई और पुलिस को सूचना दी. एसपी वीके मिश्र और सीओ रमाकांत यादव पुलिस फोर्स और डॉग स्क्वॉड टीम के साथ मौके पर पहुंचे. पुलिस ने छेदू पटेल की तहरीर पर अज्ञात बदमाशों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है.

बदमाशों ने आंख भी फोड़ी
एसपी ने कहा, बदमाशों की धरपकड़ के लिए पुलिस की तीन टीम गठित की गई है. जल्द ही आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा. बताते चलें कि जल्लाद बदमाशों ने आशा की आंख तक फोड़ दी थी. घर से डेढ़ लाख रुपये कीमत के जेवरात भी गायब हैं. पीड़ित परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है. आशा के साथ हुई दरिंदगी की घटना से ग्रामीण बेहद सन्न हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें