scorecardresearch
 

यूपीः थानेदार पर गिरी डबल मर्डर की गाज

गाजियाबाद के मुरादनगर में हुए दोहरे हत्याकांड के बाद एसएसपी ने एसओ मुरादनगर राजकुमार यादव को तत्काल प्रभाव से लाइन हाजिर कर दिया है. उन पर लापरवाही बरतने का आरोप था.

X
एसएसपी ने इस मामले में एसओ को लापरवाह मानकर हटा दिया एसएसपी ने इस मामले में एसओ को लापरवाह मानकर हटा दिया

गाजियाबाद के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने थाना मुरादनगर में हुये दोहरे हत्याकांड में एसओ मुरादनगर राजकुमार यादव को तत्काल प्रभाव से लाइन हाजिर कर दिया. उन पर लापरवाही बरतने का आरोप था. उनके स्थान पर सुबोध सक्सेना को एसओ मुरादनगर बनाया गया है.

गाजियाबाद के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक धमेन्द्र सिंह ने बताया कि थाना मुरादनगर इलाके के गांव भिक्कनपुर में दोहरी हत्या की वारदात के बाद तनाव फैल गया था. लेकिन समझदार लोगों ने हालात को संभाल लिया. लेकिन तनाव के मद्देनजर गांव में भारी पुलिस बल तैनात किया गया है.

एसएसपी ने बताया कि मृतकों के परिजनों ने भिक्कनपुर के डेरी मालिक विजय सहित पांच लोगों पर हत्या का आरोप लगाया है. पुलिस ने तेजी से कार्रवाई करते हुए हत्यारोपी विजय पाल, तिलकु, आशु, दीपक और अमित शाह को गिरफ्तार कर लिया है. पांचों लोगों से पूछताछ की जा रही है.

गौरतलब है कि बुधवार को गाजियाबाद जिले में मुरादनगर थाना क्षेत्र के भिकनपुर गांव में रूपयों के लेनदेन को लेकर दो पक्षों के बीच विवाद हो गया था. जिसमें दो पशु व्यापारियों की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी. मरने वाले दोनों युवक चाचा-भतीजे थे.

इस घटना से गुस्साएं दोनों व्यापारियों के परिजनों ने स्थानीय लोगों के साथ मिलकर रावली रोड इलाके पर जाम लगा दिया था. और वाहनों में तोड़फोड़ करनी की थी. मृतक नईम और वसीम अपने परिवार के साथ में भिकनपुर गांव में ही रहते थे. दोनों पशुओं की खरीद फरोख्त और दूध का काम करते थे. दोनों का गांव में ही एक डेयरी संचालक विजय के साथ में विवाद चल रहा था.

दोनों को डेयरी संचालक विजय ने अपनी डेयरी पर बुला लिया था. करीब पचास हजार रूपये के लेनदेन को लेकर कहासुनी हुई थी. इसी दौरान वहां पर दोनों को बंधक बनाकर गोली मार दी गई. कुछ लोगों ने माहौल खराब करने की कोशिश की थी. लेकिन स्थानीय समझदार लोगों ने मामला शांत कराकर उन्हें वापस भेज दिया.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें