scorecardresearch
 

बाप ने पैसे नहीं दिए तो महबूबा को चेन देने के लिए शुरू की स्नैचिंग

पुलिस ने आरोपी से पूछताछ किया तो आरोपी ने बताया कि उसका पिता आरपीएफ में कांस्टेबल है और बड़ौदा हाउस में तैनात है. आरोपी वसीम ने अपने पिता से दीवाली में अपनी महबूबा को चेन देने के लिए पिता से पैसा मांगा था, मगर पिता ने पैसे देने से इंकार कर दिया.

पुलिस की पकड़ में चेन स्नैचर पुलिस की पकड़ में चेन स्नैचर

पूर्वी दिल्ली के कल्याणपुरी थाने की पुलिस ने वसीम अकरम नाम के बदमाश को पकड़ा है. इलाके में चेन स्नैचिंग की वारदात को अंजाम देने के लिए चर्च के पास जैसे ही वसीम ने महिला की चेन खींचने की कोशिश की, वैसे ही उस महिला ने आसपास शोर मचाना शुरू कर दिया.

मौके पर उपस्थित भीड़ ने चेन स्नैचर को पकड़ लिया और जमकर पिटाई कर दी. भीड़ ने बदमाश की इतनी पिटाई कर दी कि बदमाश का पूरा चेहरा खराब हो दिया और एक हाथ को भी तोड़ दिया. मौके पर पहुंची पुलिस आरोपी को पकड़कर कल्याणपुरी थाने ले आई.

पुलिस ने आरोपी से पूछताछ किया तो आरोपी ने बताया कि उसका पिता आरपीएफ में कांस्टेबल है और बड़ौदा हाउस में तैनात है. आरोपी वसीम ने अपने पिता से दीवाली में अपनी महबूबा को चेन देने के लिए पिता से पैसा मांगा था, मगर पिता ने पैसे देने से इंकार कर दिया.

इसी बात से चिढ़कर आरोपी वसीम जुर्म की दुनिया में कूद गया. अपनी मेहबूबा को चेन देने के लिए वह कल्याणपुरी चेन स्नैचिंग की वारदात को अंजाम देने आया था. लेकिन उसकी किस्मत को कुछ और ही मंजूर था, चेन की जगह अब उसे तिहाड़ जेल की हवा खानी होगी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें