scorecardresearch
 

अगवा नहीं कर पाए तो बाइक में मारी जोरदार टक्कर, युवती की दर्दनाक मौत

कार सवार युवकों ने बाइक पर पीछे बैठी मयूरी के बाल खींच डाले और हाथ पकड़ने की नाकाम कोशिश की.आरोपी कार सवार लड़की को कार में खींचना चाहते थे. लेकिन जब ऐसा नहीं हुआ तो उन लोगों ने बाइक को टक्कर दे मारी.

पुलिस आरोपियों की तलाश में जुट गई है पुलिस आरोपियों की तलाश में जुट गई है

महाराष्ट्र के नागपुर में एक बेहद चौंकाने वाला मामला सामने आया है. जहां बाइक पर अपने दोस्त के साथ जा रही एक लड़की को कार कुछ युवकों ने बाल पकड़कर खींचा और उसे कार में डालने की कोशिश की. जब वे नाकाम रहे तो उन लोगों ने बाइक को जोरदार टक्कर मार दी. जिससे युवती की दर्दनाक मौत हो गई.

दिल दहला देने वाली यह वारदात नागपुर के गणेशपेठ इलाके की है. बीते शनिवार की रात 22 वर्षीय मयूरी हिंगणेकर नामक लड़की अपने दोस्त अक्षय के साथ कहीं गई थी. जब वह वापस घर की तरफ लौट लौट रही थी. तभी एक कार उनकी बाइक के करीब आ गई. अचानक कार सवार युवकों ने बाइक पर पीछे बैठी मयूरी के बाल खींच डाले और हाथ पकड़ने की नाकाम कोशिश की.

कार सवार लड़की को कार में खींचना चाहते थे. लेकिन जब ऐसा नहीं हुआ तो उन लोगों ने बाइक को टक्कर दे मारी. इस दौरान मयूरी सड़क पर जा गिरी और उसने वहीं दम तोड़ दिया. जबकि उसका दोस्त अक्षय बुरी तरह से घायल हो गया. ये पूरी वारदात वहां लगे एक सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई. जिसमें साफ देखा जा सकता है कि किस तरह से तेज रफ्तार कार ने बाइक को जोरदार टक्कर मारी थी.

नागपुर पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि घटना रात करीब साढे 12 बजे की है. मयूरी और उसका दोस्त मंदिर से दर्शन कर लौट रहे थे. इसी बीच वे दोनों वैरायटी चौक पर चाय पीने के लिए रुके थे. बस वहीं चाय की दुकान के पास इस वारदात को अंजाम दिया गया.

मृतका के भाई ने बताया कि उसकी बहन को कुछ लोग धमकी दे रहे थे. उसके पास लगातार धमकी भरे मैसेज भी आ रहे थे. इस घटना के पीछे मृतका के पूर्व प्रेमी और उसके भाईयों को नाम निकलकर आया है.

पुलिस के अनुसार इस मामले में आशीष कृष्णा सालवे, मोहित मनोहर सालवे, दीपक तुलसीदास भुले और अनिकेत कृष्णा सालवे को नामजद करते हुए कत्ल और कत्ल की कोशिश का मामला दर्ज किया गया है.

कई दिनों से मिल रही थी धमकी: शनिवार को पुलिस को लगा कि यह एक दुर्घटना है लेकिन सीसीटीवी फुटेज के सामने आने के बाद सच्चाई सामने आ गई। मयूरी के भाई चेतन ने बताया कि कई दिनों से मयूरी को धमकियां दी जा रही थीं। शनिवार रात भी उसे फोन पर धमकाया गया था। वॉट्सऐप पर धमकी भरे मैसेज भेजे जा रहे थे।

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें