scorecardresearch
 

यूपीः नाबालिग ने काट दिया दस साल के बच्चे का सिर

कानपुर में एक नाबालिग लड़के ने गर्दन काटकर एक दस साल के बच्चे को मौत की नींद सुला दिया. हत्या की वजह पुरानी रंजिश बताई जा रही है.

X
नाबालिग किशोर ने जंगल में जाकर बच्चे का सिर काट दिया
नाबालिग किशोर ने जंगल में जाकर बच्चे का सिर काट दिया

उत्तर प्रदेश के कानपुर जिले में पारिवारिक रंजिश के चलते एक नाबालिग लड़के ने दस साल के बच्चे की गर्दन काट कर हत्या कर दी. इससे पहले उसने बच्चे को अगवा कर लिया था. वारदात के बाद भीड़ ने आरोपी के घर को आग के हवाले कर दिया.

दिल दहला देने वाली यह खूनी वारदात कानपुर के रावतपुर कस्बे की है. जहां सुल्तानपुरिया गली में सब्जी विक्रेता शमीम खान का घर है. उसका दस वर्षीय बेटा अर्श खान कक्षा 3 का छात्र था. बीती रात मोहल्ले का 17 वर्षीय किशोर सरफराज अर्श को बारहवफात की सजावट दिखाने के लिये अपने साथ लेकर गया था.

सरफराज इस बीच अर्श को अर्मापुर के जंगल में ले गया. आरोप है कि सरफराज ने वहां चाकू से अर्श की गर्दन काट कर शव झाड़ियों में छिपा दिया. बाद में वह घर लौट आया और उसने घर वालों को बताया कि मोटरसाइकिल सवार दो युवक अर्श को अपने साथ लेकर चले गये हैं.

अर्श के घरवालों ने इस बात की जानकारी पुलिस को दी. पुलिस फौरन पूछताछ के लिए सरफराज के घर पहुंची. पुलिस वालों ने पाया कि सरफराज के पैर में खून के धब्बे लगे थे. पुलिस को इसी बात से शक हो गया. जब पुलिस ने सरफराज से कड़ाई से पूछताछ की, तो उसने अपना जुर्म कबूल कर लिया.

पुलिस ने उसकी निशानदेही पर अर्श की लाश अर्मापुर के जंगल से बरामद कर ली. इस बीच जैसे ही यह खबर रावतपुर में अर्श के घरवालों को लगी उन्होंने सरफराज के घर में तोड़फोड़ कर आग लगा दी. पुलिस और दमकल ने बड़ी मुश्किल से आग पर काबू पाया.

कानपुर के एसपी (ग्रामीण) सुरेंद्र तिवारी ने बताया कि अर्श के शव का पोस्टमार्टम होगा. आरोपी को देर रात ही गिरफ्तार कर लिया गया था. पुलिस उससे पूछताछ कर यह जानने की कोशिश कर रही है कि इस घटना में क्या कोई और भी शामिल था.

एसपी तिवारी का कहना है कि इस घटना के पीछे दोनों परिवारों के बीच पुरानी रंजिश वजह बनकर सामने आ रही है. पुलिस मामले की जांच कर रही है. अर्श की पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतजार भी हो रहा है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें