scorecardresearch
 

अंडरवर्ल्ड से जुड़े कमलेश तिवारी हत्याकांड के तार, पुलिस को मिला कोड

उत्तर प्रदेश के चर्चित कमलेश तिवारी हत्याकांड मामले के तार अंडरवर्ल्ड से जुड़ गए हैं. सूत्रों के मुताबिक जांच एजेंसियों को प्रमोद नाम के शख्स की तलाश है.

कमलेश तिवारी (फाइल फोटो) कमलेश तिवारी (फाइल फोटो)

  • कमलेश तिवारी हत्याकांड मामले के तार अंडरवर्ल्ड से जुड़े
  • जांच एजेंसियों को प्रमोद नाम के शख्स की तलाश

उत्तर प्रदेश के चर्चित कमलेश तिवारी हत्याकांड मामले के तार अंडरवर्ल्ड से जुड़े हैं. सूत्रों के मुताबिक जांच एजेंसियों को 'प्रमोद' नाम के शख्स की तलाश है. बता दें कि 'प्रमोद' एक कोड नेम है.

सूत्रों के मुताबिक प्रमोद कोड नेम का कमलेश हत्याकांड में बड़ी भूमिका है और यह शख्स अंडरवर्ल्ड से जुड़ा है. कमलेश तिवारी की उनके आफिस में 18 अक्टूबर को हत्या कर दी गई थी. इस मामले में गुजरात आतंकवाद निरोधक दस्ता (एटीएस) ने 22 अक्टूबर को अशफाक हुसैन (34) और मोइनुद्दीन खुर्शीद पठान (27) को गिरफ्तार किया था.

जांच एजेंसियों ने फोन इंटरसेप्ट किया

इस मामले में पांच और आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है जिस पर हत्या की साजिश रचने और हत्यारों को मदद पहुंचाने का आरोप है.  इस मर्डर केस की जांच कर रही जांच एजेंसियों ने अंडरवर्ल्ड से जुड़े एक शख्स का फोन इंटरसेप्ट किया.

मिडिल ईस्ट में बैठे इस शख्स ने कमलेश तिवारी की हत्या के बाद फोन किया था और कहा कि कमलेश तिवारी की हत्या अंडरवर्ल्ड ने करवाई है. अंडरवर्ल्ड के दावे को गंभीरता से लेने की वजह यह है कि पहले भी अंडरवर्ल्ड ने कई हिंदू नेताओं को मारने की साजिश रची है. स्वामी चक्रपाणि को छोटा शकील ने मारने की साजिश रची थी, लेकिन शूटर को दिल्ली पुलिस स्पेशल सेल ने रॉ के साथ मिलकर उसे पकड़ा था.

अंडरवर्ल्ड ने इसके अलावा शिया नेताओं को भी मारने की साजिश रची थी. अंडरवर्ल्ड यूपी शिया बोर्ड चेयरमैन को मारने की साजिश रच चुका है. हालांकि स्पेशल सेल ने रॉ के साथ मिलकर इस साजिश को नाकाम कर दिया था.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें