scorecardresearch
 

सेनाध्यक्ष का बयान- मेजर गोगोई दोषी हुए तो मिलेगी कड़ी सजा, बनेगी नजीर

होटल में लड़की के साथ हिरासत में लिए गए मेजर लीतुल गोगोई के मामले में जनरल बिपिन रावत ने जोर देकर कहा था कि अगर मेजर गोगोई दोषी पाए गए तो उन्हें ऐसी सजा देंगे कि यह बाकी लोगों के लिए सेना में नजीर बन जाएगी.

सेना ने पहले ही गोगोई के खिलाफ कार्रवाई की बात साफ कर दी थी सेना ने पहले ही गोगोई के खिलाफ कार्रवाई की बात साफ कर दी थी

होटल में लड़की के साथ हिरासत में लिए गए मेजर लीतुल गोगोई के मामले में जनरल बिपिन रावत ने जोर देकर कहा था कि अगर मेजर गोगोई दोषी पाए गए तो उन्हें ऐसी सजा देंगे कि यह बाकी लोगों के लिए सेना में नजीर बन जाएगी.

दरअसल, जम्मू कश्मीर पुलिस से प्रारंभिक रिपोर्ट मिलने के बाद सेना ने मेजर लीतुल गोगोई के खिलाफ कोर्ट ऑफ इंक्वायरी का आदेश दे दिए हैं. सेना ने पहले ही साफ किया था कि अगर गोगोई के खिलाफ कोर्ट ऑफ इंक्वायरी की जरूरत पड़ेगी तो सेना नियमों के मुताबिक कार्रवाई करेगी.

कोर्ट ऑफ इंक्वायरी की कार्रवाई शुरू होने के बाद अब मेजर गोगोई के पूरे मामले की जांच सेना खुद करेगी. कश्मीर के पहलगाम में एक कार्यक्रम में शामिल होते वक्त सेना प्रमुख बिपिन रावत ने इस बात के संकेत दे दिए थे कि अगर मेजर मेजर लीतुल गोगोई इस मामले में दोषी पाए जाते हैं, तो उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी.

बुधवार को भारतीय सेना के मेजर लीतुल गोगोई को एक होटल में नाबालिग लड़की के साथ हिरासत में लिए गए थे. मेजर गोगोई कथित तौर पर स्थानीय लड़की के साथ होटल में चेक-इन करना चाहते थे. इसी बात को लेकर विवाग हुआ और होटल प्रबंधन ने पुलिस बुला ली थी.

पुलिस ने मेजर गोगोई और लड़की को पूछताछ के लिए हिरासत में ले लिया था. आईजीपी ने इस मामले की जांच श्रीनगर जोन के एसपी सज्जाद शाह को सौंपी थी. जबकि गोगोई को सेना की बड़गाम यूनिट के पास वापस भेज दिया गया था.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें