scorecardresearch
 

हैदराबाद गैंगरेप केस: सीन रिक्रिएट करने ले गई थी पुलिस, भागने की कोशिश में मारे गए चारों आरोपी

हैदराबाद गैंगरेप और मर्डर केस के चारों आरोपियों का एनकाउंटर कर दिया गया है. चारों आरोपी पुलिस रिमांड में थे और उन्हें गुरुवार देर रात नेशनल हाइवे-44 पर क्राइम सीन रिक्रिएट करने के लिए ले जाया गया था.

एनकाउंटर साइट (फोटो-ANI) एनकाउंटर साइट (फोटो-ANI)

  • रिक्रिएशन के दौरान आरोपियों ने पुलिस पर किया हमला
  • आरोपियों ने धुंध का फायदा उठाकर भागने की कोशिश की

हैदराबाद गैंगरेप और मर्डर केस के चारों आरोपियों का एनकाउंटर कर दिया गया है. चारों आरोपी पुलिस रिमांड में थे और उन्हें गुरुवार देर रात नेशनल हाइवे-44 पर क्राइम सीन पर ले जाया गया था. पुलिस सूत्रों का कहना है कि क्राइम सीन रिक्रिएट करने के दौरान आरोपियों ने पुलिस पार्टी पर हमला कर दिया और धुंध का फायदा उठाकर भागने की कोशिश की. इसके बाद पुलिस ने मुठभेड़ में चारों आरोपियों को मार गिराया. लाशों का पंचनामा किया जा रहा है और मौके पर भारी पुलिस बल तैनात हैं.

बता दें कि इन आरोपियों ने डॉक्टर दिशा को किडनैप किया था और फिर उसके साथ गैंगरेप किया था. इसके बाद आरोपियों ने डॉक्टर दिशा की हत्या कर दी थी और शव पर पेट्रोल छिड़ककर आग लगा दी थी. डॉक्टर दिशा की उम्र 27 साल थी और वो कोल्लुरु के पशु चिकित्सालय गई थीं.

हैदराबाद के शादनगर के टोल प्लाजा के पास ही डॉक्टर ने अपनी स्कूटी पार्क की थी. जब वो रात में वापस लौट रही थीं, तो उनकी स्कूटी पंक्चर थी. इसके बाद डॉक्टर दिशा ने अपनी बहन को फोन किया था और इसकी जानकारी दी थी. इसके बाद फोन कट गया था. जब डॉक्टर दिशा की बहन ने उनको दोबारा कॉल किया, तो फोन नहीं लगा.

इसके बाद डॉक्टर दिशा का जला हुआ शव बरामद हुआ था. इस घटना के सामने आने के बाद लोगों में जबरदस्त आक्रोश देखने को मिला. इस वारदात को लेकर देश के अलग-अलग हिस्सों में प्रदर्शन किए जा रहे हैं और कैंडल मार्च निकाले जा रहे हैं. सभी लोगों की मांग है कि डॉक्टर दिशा के दोषियों को जल्द से जल्द फांसी पर लटकाया जाए.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें