scorecardresearch
 

IMEI बदलकर बेचते थे चोरी के मोबाइल, पाकिस्तान और चीन से मंगाते थे सॉफ्टवेयर

उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद जिले में पुलिस ने एक ऐसे गिरोह का भंडाफोड़ किया है, जो IMEI नंबर बदलकर चोरी के मोबाइल बाजार में बेच रहा था. पुलिस ने आरोपियों के पास से सैंकडों मोबाइल फोन बरामद किए है. खास बात ये है कि इस गिरोह के तार पाकिस्तान, चाइना और कुछ खाड़ी देशों से भी जुड़े हैं.

पुलिस ने 8 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है पुलिस ने 8 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है

उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद जिले में पुलिस ने एक ऐसे गिरोह का भंडाफोड़ किया है, जो IMEI नंबर बदलकर चोरी के मोबाइल बाजार में बेच रहा था. पुलिस ने आरोपियों के पास से सैंकडों मोबाइल फोन बरामद किए है. खास बात ये है कि इस गिरोह के तार पाकिस्तान, चाइना और कुछ खाड़ी देशों से भी जुड़े हैं.

गाजियबाद पुलिस ने इस गिरोह के ठिकाने पर दबिश देकर 8 शातिर सदस्यों को गिरफ्तार कर लिया. ये मोबाइल फोन का आईएमईआई नंबर बदल कर बाजार में बेच देता था. इस गिरोह के 5 सदस्य मोबाइल फोन की चोरी करते थे, जबकि अन्य तीन उन्हें बेचने के लिए दुकानों से संपर्क करते थे.

आरोपी शातिर सस्ते मोबाइल फोन का आईएमईआई नंबर महंगे फोन से बदल देते थे. इस काम के लिए इन्हें कुछ सॉफ्टवेयर की जरुरत पड़ती थी, जो दिल्ली की गफ्फार मार्किट से खरीदे जाते थे. एप्पल और ब्लैकबेरी मोबाइल फोन का आईएमईआई नंबर बदलना मुश्किल होता है.

लिहाजा इनके लिए आरोपी पाकिस्तान, चाइना और कुछ खाड़ी देशों से सोशल मीडिया के जरिए सॉफ्टवेयर मंगवाते थे. ये सारा काम इतनी सफाई से होता था कि इन्हें पकड़ना मुश्किल था. सूत्रों से मिली सूचना के आधार पर पुलिस ने इस गिरोह को धरदबोचा. पुलिस ने आरोपियों के पास से लगभग 800 मोबाइल फोन बरामद किए हैं.

फिलहाल पुलिस आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर इनसे पूछताछ कर रही है. इस गिरोह के तार विदेश से जुड़े होने के कारण इसकी सूचना केंद्रीय सुरक्षा एजेंसियों को भी दी गई है. मामले की जांच जारी है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें