scorecardresearch
 

बीड में जाली नोट का कारखाना पकड़ा गया, बनते थे 100 और 50 के हूबहू नोट

महाराष्ट्र पुलिस ने मध्य प्रदेश के पुलिस के साथ मिलकर बीड शहर मे एक ऐसे कारखाने का भंडाफोड़ किया है जहां 100 और 50 रुपये के नोट छापने का अवैध धंधा चल रहा था.

नकली नोट नकली नोट

महाराष्ट्र पुलिस ने मध्य प्रदेश के पुलिस के साथ मिलकर बीड शहर मे एक ऐसे कारखाने का भंडाफोड़ किया है जहां 100 और 50 रुपये के नोट छापने का अवैध धंधा चल रहा था. प्राप्त जानकारी के अनुसार बीड शहर में कई महीने से 100 और 50 रुपये के हुबहु नोट छापने का काम चल रहा था. जाली नोट छापने के लिए पेपर औरंगाबाद से लाया जा रहा था.

सैयद शुकूर शब्बीर नामक आरोपी को हिरासत में लिया गया है. पुलिस के मुताबिक बीड शहर के पेठ बीड थाना क्षेत्र के गांधी नगर में एक व्यक्ति 50 व 100 रुपये मूल्य की नकली नोट अवैध रूप से छपा रहा है, ऐसी जानकारी मध्य प्रदेश पुलिस मिली. उन्होंने तत्काल बीड पुलिस से संपर्क कर इसकी सूचना दी. इस मामले को गंभीरता से लेते हुए पुलिस अधीक्षक जी. श्रीधर इनके निर्देश पर पेठ बीड थाने के पुलिस निरीक्षक अनिल जाधव ने शेख शकूर के मकान पर छापा मारकर नकली नोट छापने की किताबें व डेढ़ लाख रुपए मूल्य के 50 व 100 के के नोट जब्त किए. पुलिस ने शेख शकूर को गिरफ्तार कर लिया है. नकली नोट बनाने वाला गिरोह कार्यरत है क्या? शेख शकूर से किस-किस के संबंध हैं, पुलिस जांच में जुट गई है.

शेख शकूर बीड तहसील के नालवंडी गांव का राहेनेवाला है. दो साल पहले उसे एक अपने रिश्तेदार की लड़की के साथ जबरन बलात्कार के मामले में अरेस्ट किया गया था. वह औरंगाबाद के हर्सूल जेल में सजा काट रहा था. उसी दौरान शकूर की मुलाकात एक कैदी से हुई जो नकली नोट छापने के मामले में सजा काट रहा था. शकूर जब जेल से रिहा हुआ तो वह भी नकली नोट बनाने का कारोबार करने लगा. केवल आठवीं पास शकूर की करतूत से दोनों राज्यों की पुलिस सन्न रह गई है.

बीड में काफी दिनों से नकली नोट का कारखाना चल रहा था, पर पुलिस को इसकी भनक तक नहीं लगी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें