scorecardresearch
 

गोरखपुर BRD कॉलेज के पूर्व प्रिंसिपल पत्नी संग अरेस्ट, STF ने किया गिरफ्तार

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, दोनों कानपुर के एक नामी वकील के वहां छिपे हुए थे. एसटीएफ अधिकारियों की मानें तो इस मामले में वकील के खिलाफ भी कानूनी कार्रवाई हो सकती है.

X
पूर्व प्रिंसिपल राजीव मिश्रा और उनकी पत्नी पूर्णिमा शुक्ला अरेस्ट पूर्व प्रिंसिपल राजीव मिश्रा और उनकी पत्नी पूर्णिमा शुक्ला अरेस्ट

यूपी एसटीएफ ने गोरखपुर बीआरडी मेडिकल कॉलेज के पूर्व प्रिंसिपल राजीव मिश्रा और उनकी पत्नी पूर्णिमा शुक्ला को मंगलवार को कानपुर से गिरफ्तार कर​ लिया है. गोरखपुर के बीआरडी अस्पताल में हुई बच्चों की मौत के बाद दोनों पिछले काफी वक्त से फरार चल रहे थे.

आरोपी पूर्व प्रिंसिपल राजीव मिश्रा और पूर्णिमा शुक्ला लगातार अपना ठिकाना बदल रहे थे. सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, दोनों कानपुर के एक नामी वकील के वहां छिपे हुए थे. एसटीएफ अधिकारियों की मानें तो इस मामले में वकील के खिलाफ भी कानूनी कार्रवाई हो सकती है.

बीआरडी मेडिकल कॉलेज में मासूमों की मौत के मामले में रविवार को लखनऊ के हजरतगंज थाने में 9 लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया गया था. इनमें पहली एफआईआर भ्रष्टाचार, दूसरी लापरवाही बरतने और तीसरी एफआईआर प्राइवेट प्रैक्टिस के खिलाफ दर्ज की गई थी.

गौरतलब है कि यूपी के डीजी हेल्थ के.के. गुप्ता की तरफ से इस मामले में पुलिस को तहरीर दी गई थी. इस एफआईआर में ऑक्सीजन सप्लाई प्रभावित होने का भी जिक्र है. एफआईआर में मेडिकल कॉलेज के पूर्व प्रिंसिपल डॉक्टर राजीव मिश्रा, उनकी पत्नी डॉ. पूर्णिमा शुक्ला, डॉ. कफील खान, डॉ. सतीश समेत कुल 9 लोगों पर 7 धाराओं में केस दर्ज किया गया है.

बताते चलें कि बीआरडी मेडिकल कालेज में बीते दिनों इंसेफ्लाइटिस और एनआईसीयू वॉर्ड में कई बच्चों की मौत हो गई थी. इस मामले में ऑक्सीजन की कमी से दर्जनों बच्चों की मौत के आरोप लगे थे, जिससे यूपी सरकार ने साफ इनकार किया था. इस मामले में विपक्षी पार्टियों ने राज्य सरकार पर जमकर हल्ला बोला था.

 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें