scorecardresearch
 

...इस वजह से अब चाहकर भी हनीप्रीत से नहीं मिल पाएगा राम रहीम

रेप केस में 20 साल की जेल की सजा काट रहे राम रहीम ने अपनी करीबी हनीप्रीत से मिलने के लिए जेल प्रशासन को उसका नाम दिया है. यहां तक की हनीप्रीत से बातचीत करने के लिए राम रहीम ने उसका मोबाइल नंबर भी दे दिया है. लेकिन कानूनी अड़चनों के बीच राम रहीम का हनीप्रीत से जेल में मिलना संभव नहीं है.

राम रहीम और हनीप्रीत राम रहीम और हनीप्रीत

रेप केस में 20 साल की जेल की सजा काट रहे राम रहीम ने अपनी करीबी हनीप्रीत से मिलने के लिए जेल प्रशासन को उसका नाम दिया है. यहां तक की हनीप्रीत से बातचीत करने के लिए राम रहीम ने उसका मोबाइल नंबर भी दे दिया है. लेकिन कानूनी अड़चनों के बीच राम रहीम का हनीप्रीत से जेल में मिलना संभव नहीं है.

जानकारी के मुताबिक, राम रहीम से मिलने के लिए हनीप्रीत को गोद लिए जाने का पेपर दाखिल करना होगा. यदि ऐसा नहीं होता है तो इसके लिए कोर्ट से मंजूरी लेनी होगी. इसमें भी सबसे बड़ी बाधा हनीप्रीत की गिरफ्तारी का डर है. हनीप्रीत के खिलाफ लुक आउट नोटिस जारी है. उसके यहां आने पर गिरफ्तारी की संभावना है.

राम रहीम ने जेल प्रशासन को 10 लोगों की लिस्ट सौंपी थी, जो उससे मिलने के लिए आने वाले थे. इसमें राम रहीम ने हनीप्रीत का नाम सबसे पहले लिखा था. इसके बाद उसने अपनी दोनों बेटी-दामाद, बेटा-बहू और डेरे की देखभाल करने वाले कुछ प्रमुख लोगों का नाम दिया था. राम रहीम रोहतक की सुनारिया जेल में बंद है.

आखिर कहां है हनीप्रीत, खोज रही है पुलिस

इधर, हनीप्रीत अभी तक पुलिस की नजर से ओझल है. उसकी तलाश में हरियाणा पुलिस यूपी के लखीमपुर खीरी तक पहुंच गई. वहां एक गाड़ी संदिग्ध अवस्था में मिली है, जिसकी जांच की जा रही है. अपर पुलिस अधीक्षक घनश्याम चौरसिया ने बताया कि हरियाणा पुलिस के एक सब इंस्पेक्टर और दो सिपाही हनीप्रीत की तलाश में आए थे.

इस तरह प्रियंका तनेजा बनी हनीप्रीत इंसा

हनीप्रीत का असली नाम प्रियंका तनेजा है. हरियाणा के फतेहाबाद की रहने वाली प्रियंका तनेजा उर्फ हनीप्रीत और विश्वास गुप्ता की शादी 14 फरवरी, 1999 को डेरा प्रमुख राम रहीम ने ही करवाई थी. दोनों की शादी ज्यादा दिन नहीं चली. कुछ समय बाद हनीप्रीत ने राम रहीम से शिकायत कर दी थी कि ससुराल वाले दहेज मांग रहे हैं.

हनीप्रीत-राम रहीम के बीच अवैध संबंध?

राम रहीम ने 2009 में हनीप्रीत को गोद ले लिया. पहले से ही उसकी दो बेटियां और एक बेटा है. इनके नाम अमनप्रीत, चमनप्रीत और जसमीत है. साल 2011 में विश्वास गुप्ता ने हाईकोर्ट में केस दायर कर राम रहीम के कब्जे से हनीप्रीत को मुक्त कराने की मांग की थी. उसने दोनों के बीच अवैध संबंध का भी आरोप लगाया था.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें