scorecardresearch
 

अमीर बनकर महिलाओं से करता था लाखों की ठगी, ऐसे हुआ गिरफ्तार

पकड़ा गया शातिर ठग तरुण महिलाओं के सामने ऐसे दिखावा करता था, जैसे वो किसी करोड़पति कारोबारी या एमएनसी का अधिकारी हो. इसके लिए वो महंगी कार और बाउंसर किराए पर लेकर चलता था.

X
पुलिस पकड़े गए आरोपी से पूछताछ कर रही है
पुलिस पकड़े गए आरोपी से पूछताछ कर रही है

दिल्ली पुलिस ने एक ऐसे शातिर युवक को गिरफ्तार किया है, जो महंगा सूट पहनता था और फर्राटेदार अंग्रेजी बोलकर अपने इस अंदाज से महिलाओं को अपने जाल में फंसाकर ठग लेता था. पकड़ा गया आरोपी कम्प्यूटर साइंस का छात्र है. वो अभी तक दर्जनभर से ज्यादा महिलाओं से लाखों की ठगी कर चुका है.

दिल्ली पुलिस के हत्थे चढ़े शातिर ठग का नाम तरुण पोद्दार है. उसकी उम्र 24 साल है. दरअसल, होनहार होने के बावजूद तरुण पोद्दार कम समय में अमीर बनना चाहता था. इसलिए उसने जुर्म का ऐसा रास्ता चुना, जिसने उसे सीधे सलाखों के पीछे पहुंचा दिया.

पुलिस के मुताबिक, दिल्ली की रहने वाली एक महिला ने शिकायत दर्ज कराई थी कि तरुण पोदार ने उसके बेटे का एक नामी स्कूल में एडमिशन करवाने के ऐवज में उससे 12 लाख रुपये की डिमांड की थी. महिला ने उसे 8 लाख रुपये दे दिए. इसके बदले में तरुण ने उस स्कूल की एक fake email ID बनाई और एक fake website, जिसके बाद महिला को पहले स्कूल की तरफ से एडमिशन हो जाने का मेल किया. फिर उसे फेक वेबसाइट का लिंक भेज कर भरोसा भी दिला दिया.

महिला जब बच्चे को लेकर स्कूल पहुंची, तो उसे खुद के ठगे जाने का पता चला. महिला की शिकायत पर पुलिस ने तुरंत साइबर सेल की मदद ली. जिसके बाद पुलिस ने तरुण की लोकेशन ट्रैस कर ली और उसे दबिश देकर गिरफ्तार कर लिया. जब उससे पूछताछ की गई तो पता चला कि ये शातिर ठग सिर्फ महिलाओं को ही शिकार बनाता था.

रंगीन मिजाज तरुण पोदार महिलाओं को इम्प्रेस करने के लिए उनसे पहली मुलाकात किसी फाइव स्टार होटल में करता था. वहां किराए की लग्जरी कार में 2 बाउंसर साथ लेकर जाता था. ताकि महिलाओं पर रौब डाल सके. फेसबुक पर दोस्ती करने के बाद वो महिलाओं और लड़कियों का कोई भी काम करवाने के लिए तैयार हो जाता था और उनसे लाखों रुपये हड़प लेता था.

वेस्ट दिल्ली के डीसीपी विजय कुमार के मुताबिक पुलिस को जांच के दौरान पता चला है कि तरुण ने लड़कियों को इम्प्रेस करने के लिए किसी और लेखक की लिखी किताब का कवर पेज बदल कर अपना नाम लिखा और उसके बाद उसे एक शॉपिंग वेबसाइट पर भी डाल दिया था.

खुद को एक बड़ी फर्म में बड़ा अधिकारी बताने वाले इस फ्रॉड ने दिल्ली के एक बेहद अमीर कारोबारी की बेटी को पहले अपने जाल में फंसाया और उसके साथ सगाई भी कर ली. लेकिन, इसका चेहरा बेनकाब होने के बाद अब ये जालसाज सलाखों के पीछे पहुंच चुका है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें