scorecardresearch
 

दिल्ली: जाली नोटों का दाऊद कनेक्शन? इंटरनेशनल रैकेट का हुआ खुलासा

दिल्ली पुलिस ने आरोपी असलम के पास से 5 लाख 50 हजार रुपये के नकली नोट बरामद किए हैं. असलम को ये जाली नोट पाकिस्तान से मिल रहे थे, जिसे वह भारत में सप्लाई कर रहा था.

दिल्ली पुलिस की गिरफ्त में आरोपी (फोटो-अरविंद ओझा) दिल्ली पुलिस की गिरफ्त में आरोपी (फोटो-अरविंद ओझा)

दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने नकली नोटों की सप्लाई करने वाले इंटरनेशनल रैकेट का पर्दाफाश किया है. स्पेशल सेल ने असलम अंसारी नाम के शख्स को गिरफ्तार किया है. असलम अंसारी नेपाल का रहने वाला है. असलम के पास से दो-दो हजार के 275 नोट मिले हैं. यानी पुलिस ने असलम के पास से 5 लाख 50 हजार रुपये के नकली नोट बरामद किए हैं. असलम को ये जाली नोट पाकिस्तान से मिल रहे थे, जिसे वह भारत में सप्लाई कर रहा था. पूछताछ में खुलासा हुआ कि पाकिस्तान से जाली नोटों की खेप बड़े पैमाने पर नेपाल से सप्लाई की जा रही है.

पकड़े गए असलम अंसारी ने स्पेशल सेल के सामने खुलासा किया है कि उसे नकली नोटों की जो खेप नेपाल में 3 लोगों ने दी थी, उन्होंने कहा था कि नोट पाकिस्तान से दाऊद इब्राहिम ने नेपाल भेजी थी. पूछताछ में असलम अंसारी ने पुलिस को बताया कि उसे नेपाल के 3 लोगों ने जाली नोट की सप्लाई की. इनके नाम हैं-अब्दुल रहमान, सज्जाद और शेर मोहम्मद. इनसे जाली नोट लेकर असलम भारत में सप्लाई करता था.

बिहार के रक्सौल में एक सिंडिकेट इसी काम में लगा था. असलम ने बताया कि पिछले 5 साल से वह जाली नोटों के धंधे में लगा है. असलम ने खुलासा किया कि नेपाल के रास्ते जाली नोट पाकिस्तान से भारत लाए जाते हैं. साल 2016 में नोटबंदी के बाद जाली नोटों के धंधे पर कुछ विराम लगा लगा था लेकिन पिछले एक साल में इसमें काफी तेजी देखी जा रही है.

खुद सरकार ने भी लोकसभा में इस बात को स्वीकार किया है कि पाकिस्तान इस धंधे में लगा है. सरकार के मुताबिक, पड़ोसी देश पाकिस्तान नकली नोटों की छपाई कर भारत की अर्थव्यवस्था को नुकसान पहुंचाने की नापाक कोशिश में जुटा है. पाकिस्तान अपने यहां दो हजार रुपये के नकली नोटों की छपाई कर तस्करों के जरिए भारत भेज रहा है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें