scorecardresearch
 

मानव तस्करों के चंगुल से छुड़ाई गई केन्याई लड़की

दक्षिणी दिल्ली के महरौली से पुलिस ने एक केन्याई लड़की को मानव तस्करी के जाल से सकुशल बचा लिया है. पीड़ित महिला को नौकरी दिलाने के नाम पर उसी के देश की रहने वाली एक महिला देहव्यापार में धकेलने के लिए दिल्ली लेकर आई थी. पीड़िता ने केन्या एम्बेसी मे फोन कर अपनी आपबीती बताई थी, जिसके बाद पुलिस ने कार्रवाई की है.

नौकरी के बहाने देहव्यापार में धकेलने की कोशिश नौकरी के बहाने देहव्यापार में धकेलने की कोशिश

दक्षिणी दिल्ली के महरौली से पुलिस ने एक केन्याई लड़की को मानव तस्करी के जाल से सकुशल बचा लिया है. पीड़ित महिला को नौकरी दिलाने के नाम पर उसी के देश की रहने वाली एक महिला देहव्यापार में धकेलने के लिए दिल्ली लेकर आई थी. पीड़िता ने केन्या एम्बेसी मे फोन कर अपनी आपबीती बताई थी, जिसके बाद पुलिस ने कार्रवाई की है.

जानकारी के मुताबिक, पीड़ित लड़की ग्लैडी को एलिस नाम की औरत चीन में नौकरी दिलाने के नाम पर 15 दिन पहले केन्या से दिल्ली लेकर लाई थी. यहां आने के बाद उसका पासपोर्स्ट और जरूरी कागजात छीन कर उसे जबरन जिस्मफरोशी के धंधे में जाने के लिए कहा गया. इसके बाद पीड़िता ने फोन के जरिए अपने घर और दिल्ली स्थित एम्बेसी में संपर्क किया.

पुलिस के मुताबिक, 17 जुलाई की रात को केन्या एम्बेसी से एक अधिकारी फोन करके थाने में इस बात की सूचना दी. पीड़िता के मोबाइल नंबर के आधार पर लोकेशन की तलाश करते हुए पुलिस टीम महरौली के राजपुर एक्सटेंशन पहुंच गई. संदिग्ध मकान पर दबिश देकर पीड़िता को छुड़ा लिया गया. आरोपी महिला को गिरफ्तार कर उससे पूछताछ की जा रही है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें