scorecardresearch
 

जिस्मफरोशी के धंधे का भंडाफोड़, 2000 में होता था सौदा

बिहार की राजधानी पटना में एक अपार्टमेंट में छापा मारकर पुलिस ने एक सेक्स रैकेट का भंडाफोड़ किया है. यहां से 2 कॉलगर्ल सहित 5 लोगों को हिरासत में लिया गया है. छापे के दौरान रैकेट संचालिका फरार हो गई. पुलिस आरोपियों के खिलाफ संबंधित धाराओं में केस दर्ज करके मामले की जांच कर रही है. रैकेट संचालिका की तलाश की जा रही है.

सेक्स रैकेट का भंडाफोड़ सेक्स रैकेट का भंडाफोड़

बिहार की राजधानी पटना में एक अपार्टमेंट में छापा मारकर पुलिस ने एक सेक्स रैकेट का भंडाफोड़ किया है. यहां से 2 कॉलगर्ल सहित 5 लोगों को हिरासत में लिया गया है. छापे के दौरान रैकेट संचालिका फरार हो गई. पुलिस आरोपियों के खिलाफ संबंधित धाराओं में केस दर्ज करके मामले की जांच कर रही है. रैकेट संचालिका की तलाश की जा रही है.

जानकारी के मुताबिक, शहर के हाईप्रोफाइल इलाके कंकड़बाग के एक अपार्टमेंट में जिस्मफरोशी का धंधा जोरों पर चल रहा था. गुप्त सूचना के आधार पुलिस ने वहां छापा मारा तो दंग रह गई. आपत्तिजनक स्थिति में महिलाएं और पुरुष मिले. इसके साथ ही अश्लील चीजें भी बरामद की गईं. छापा पड़ते ही रैकेट संचालिका वहां से फरार हो गई.

बताया जा रहा है कि दोनो कॉलगर्ल कोलकाता की रहनेवाली हैं. उनके साथ संबंध बनाने के लिए हर ग्राहक से दो हजार रुपये लिए जाते थे, लेकिन उन्हें महज 500 रुपये दिए जाते थे. उन्हें अक्सर बंद करके रखा जाता था. रैकेट संचालिक बिहार और पंश्चिम बंगाल सहित कई राज्यों से लड़कियां लाकर धंधा कराती थी.

एसएसपी मनु महाराज ने बताया कि जिस फ्लैट में जिस्मफरोशी का धंधा चल रहा था, उसके मालिक के खिलाफ भी कार्रवाई की जाएगी. गिरफ्तार किए गए सभी आरोपियों के खिलाफ चार्जशीट तैयार करके कोर्ट में पेश किया जाएगा. सेक्स रैकेट संचालिका को पकड़ने के लिए कोशिश के साथ ही मामले की जांच जारी है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें