scorecardresearch
 

दिल्ली में सुरक्षित नहीं बुजुर्ग, घर में घुसकर महिला का कत्ल

दिल्ली में बुजुर्ग अक्सर अपराधियों का आसान शिकार बन जाते हैं. इसकी ताजा मिसाल उस वक्त देखने को मिली जब एक बुजुर्ग महिला को उसके घर में ही कत्ल कर दिया गया. मामले का खुलासा तब हुआ, जब महिला का बेटा घर वापस लौटा. वृद्धा जमीन पर मृत पड़ी थी. उसके हाथ पांव बंधे हुए थे.

पुलिस मामले की छानबीन कर रही है पुलिस मामले की छानबीन कर रही है

दिल्ली में बुजुर्ग अक्सर अपराधियों का आसान शिकार बन जाते हैं. इसकी ताजा मिसाल उस वक्त देखने को मिली जब एक बुजुर्ग महिला को उसके घर में ही कत्ल कर दिया गया. मामले का खुलासा तब हुआ, जब महिला का बेटा घर वापस लौटा. वृद्धा जमीन पर मृत पड़ी थी. उसके हाथ पांव बंधे हुए थे.

हत्या की यह घटना साउथ दिल्ली के पॉश इलाके सावित्री नगर की है. जहां 73 वर्षीय चंद्रमुखी देवी अपने तीन मंजिला मकान की पहली मंजिल पर अकेली रहती थी. जबकि ऊपरी मंजिल पर उनका बेटा कुलदीप अपने परिवार के साथ रहता है. उनकी दो बेटियां है, जिनमें से बड़ी बेटी अमेरिका में रहती है.

मंगलवार की सुबह करीब 10 बजे जब बुजुर्ग महिला चंद्रमुखी का बेटा कुलदीप उनसे मिलने पहली मंजिल पर पहुंचा तो उसने वहां देखा कि घर का मुख्य दरवाजा खुला था. वो घर में दाखिल हुआ और अपनी मां को पुकारने लगा. लेकिन उसे कोई जवाब नहीं मिला. जब कुलदीप चंद्रमुखी के बेडरूम में पहुंचा तो कमरे का मंजर देखकर उसके होश उड़ गए.

उसकी मां चंद्रमुखी जमीन पर पड़ी थी. उनके हाथ पांव बंधे थे. मुंह पर भी कपड़ा बंधा था. अपनी मां की ये हालत देखकर कुलदीप घबरा गया और शोर मचाने लगा. आस-पास के लोग पहुंचे. बुजुर्ग महिला के हाथ पांव खोले गए लेकिन तब तक देर हो चुकी थी. चंद्रमुखी देवी की मौत हो चुकी थी.

इस बात की सूचना फौरन पुलिस को दी गई. कुछ देर में पुलिस मौके पर जा पहुंची. घर का सारा सामान बिखरा पड़ा था. आलमारियों के ताले भी टूटे हुए थे. पुलिस को शक है कि चंद्रमुखी देवी का कत्ल लूट के इरादे से घर में घुसे बदमाशों ने किया है.

कुलदीप ने पुलिस को बताया कि वह एक योगा टीचर है. सुबह वो योग सिखाने के लिए चला जाता है. करीब दस बजे घर वापस आता है. आने के साथ ही वह पहले अपनी मां के पास जाता है. उनसे बात करने के बाद वो ऊपर जाता है. हर रोज की तरह जब वह मंगलवार को मां से मिलने गया तो उसने बुगुर्ग मां को इस हाल में पाया.

चन्द्रमुखी के पति की कई साल पहले मौत हो चुकी है. वह एमसीडी से रिटायर्ड थे. पुलिस ने इस संबंध में आईपीसी की धारा 302 का मुकदमा दर्ज कर जांच शुरु कर दी है. अभी तक पुलिस को हत्यारों का कोई सुराग नहीं मिला है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें