scorecardresearch
 

डॉक्टरों और मेडिकल स्टाफ को किया परेशान तो मकान मालिकों पर होगी सख्त कार्रवाई

देश में इस वक्त कोरोना के मरीजों का आंकड़ा हर दिन बढ़ रहा है. ऐसे में डॉक्टर्स लगातार कोरोना वायरस के मरीजों से दो-चार हो रहे हैं. इस बीच डॉक्टर्स को कई तरह की समस्याओं का सामना भी करना पड़ रहा है.

PM मोदी ने 21 दिनों के लिए पूरे देश को लॉकडाउन किया है PM मोदी ने 21 दिनों के लिए पूरे देश को लॉकडाउन किया है

  • घर खाली करने का दबाव बना रहे हैं मकान मालिक
  • नर्सों को भी सोसायटी में एंट्री करने से रोका जा रहा
  • डॉक्टरों ने गृहमंत्री अमित शाह से की थी शिकायत

पूरा देश कोरोना के कहर का शिकार बनता जा रहा है. ऐसे में विभिन्न अस्पतालों में काम करने वाले उन डॉक्टरों और मेडिकल स्टाफ को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है, जो किराए के मकानों में रहते हैं.

इसी बात को ध्यान में रखते हुए प्रधानमंत्री ने अपने निर्वाचन क्षेत्र वाराणसी के लोगों से बात करते हुए कहा कि डॉक्टरों के साथ पक्षपात करने वाले या उन्हें घरों से निकालने की कोशिश करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी.

ऐसा ही बयान दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भी दिया है. उन्होंने भी ऐसे मकान मालिकों को चेताया है, जो कोरोना के डर से उनके किराएदार डॉक्टरों या अन्य मेडिकल कर्मियों को परेशान कर रहे हैं या उन्हें घर खाली करने के लिए कह रहे हैं.

दरअसल, देश में इस वक्त कोरोना वायरस का कहर बढ़ता ही जा रहा है. कोरोना के मरीजों का आंकड़ा हर दिन बढ़ रहा है. ऐसे में डॉक्टर्स लगातार कोरोना वायरस के मरीजों से दो-चार हो रहे हैं.

इस बीच डॉक्टर्स को कई तरह की समस्याओं का सामना भी करना पड़ रहा है. खासकर उन डॉक्टरों को जो किराए के मकानों में रहते हैं. उनकी परेशानी को मद्देनजर रखते हुए ही प्रधानमंत्री मोदी और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सख्त लहजे में ऐसे मकान मालिकों के खिलाफ कार्रवाई की बात कही है.

ये ज़रूर पढ़ेंः कोरोना की 'साजिश' का जिम्मेदार कौन? चीन-US एक दूसरे पर लगा रहे आरोप

आपको बता दें कि एम्स रेजिडेंट डॉक्टर एसोसिएशन ने ऐसी ही परेशानी के चलते गृह मंत्री अमित शाह को एक पत्र लिखा था. उस पत्र में कहा गया था कि डॉक्टर्स के सामने कई समस्याएं आ रही हैं. कोरोना मरीजों के संपर्क में रहने के कारण मकान मालिक डॉक्टरों पर मकान खाली करने का दबाव बना रहे हैं. इसके अलावा कुछ सोसाइटी में तो एंट्री करने से भी रोका जा रहा है.

इस पत्र का संज्ञान लेते हुए गृह मंत्रालय ने दिल्ली के पुलिस कमिश्नर और एम्स प्रशासन से बात की. सूत्रों के मुताबिक गृह मंत्रालय ने दिल्ली पुलिस कमिश्नर को इस मामले में उचित कार्रवाई करने के लिए कहा है.

वहीं, दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा, 'कुछ लोग नर्सों को कॉलोनी और घरों में प्रवेश नहीं लेने दे रहे हैं. लोगों का कहना है कि ये लोग कोरोना वायरस के मरीजों के संपर्क में रहते हैं. ऐसा करना गलत है. इन लोगों ने आपके परिवार के लिए अपनी जान दांव पर लगा रखी है. ऐसा व्यवहार बिल्कुल भी सही नहीं है.'

Must Read: जानलेवा वायरस की दवा बनाने में जुटे कई देश, भारत भी कर रहा कोशिश

बता दें कि भारत में भी कोरोना वायरस अपने पैर पसार रहा है. भारत में अब तक कोरोना वायरस के 580 से ज्यादा मामले सामने आ चुके हैं. इसके अलावा भारत में कोरोना वायरस के कारण 10 से ज्यादा लोगों की मौत भी हो चुकी है.

बताते चलें कि चीन के वुहान शहर से फैले कोरोना वायरस ने दुनियाभर को जकड़ लिया है. विश्वभर में कोरोना वायरस की चपेट में आने वालों की संख्या 4 लाख 25 हजार 493 से ज्यादा हो चुकी है, जिनमें से 18 हजार 963 लोगों की मौत हो चुकी है. इसका सबसे ज्यादा कहर इटली में देखने को मिल रहा है. इटली में कोरोना वायरस की चपेट में आने से 6 हजार 820 लोगों की मौत हो चुकी है.

कोरोना पर फुल कवरेज के लि‍ए यहां क्ल‍िक करें

कोरोना कमांडोज़ का हौसला बढ़ाएं और उन्हें शुक्रिया कहें...

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें