scorecardresearch
 

नोटबंदी को लेकर विवाद, निगरानीशुदा बदमाश ने किया मर्डर

छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में नोटबंदी की बात लेकर हुए विवाद में एक निगरानीशुदा बदमाश ने अपने ही दोस्त को मौत के घाट उतार दिया. दोनों एक ढाबे पर बैठकर शराब पी रहे थे. बताया जा रहा है कि मृतक ने प्रधानमंत्री को लेकर अपशब्द कहे थे, इसलिए बदमाश ने उसे मार डाला.

पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है

छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में नोटबंदी की बात लेकर हुए विवाद में एक निगरानीशुदा बदमाश ने अपने ही दोस्त को मौत के घाट उतार दिया. दोनों एक ढाबे पर बैठकर शराब पी रहे थे. बताया जा रहा है कि मृतक ने प्रधानमंत्री को लेकर अपशब्द कहे थे, इसलिए बदमाश ने उसे मार डाला.

मामला रायपुर के सेजबहार इलाके का है. जहां एक निगरानीशुदा बदमाश पृथ्वी सिंह उर्फ़ पिंटू अपने दोस्त शिवप्रसाद के साथ एक ढाबे पर बैठकर शराब पी रहा था. इसी दौरान दोनों के बीच नोटबंदी को लेकर बहस होने लगी. शिवप्रसाद नोटबंदी से होने वाली परेशानियों को लेकर प्रधानमंत्री मोदी को अपशब्द कहने लगा.

यह बात नरेंद्र मोदी के समर्थक पिंटू को नागवार गुजरी. दोनों के कहासुनी होने लगी. तभी नशे में धुत्त पिंटू ने आपा खो दिया और पास पड़ी एक ठोस लकड़ी की बल्ली उठाकर शिव प्रसाद के सिर पर दे मारी. जिससे लहूलुहान होकर शिवप्रसाद मौके पर ही गिर पड़ा.

फौरन उसे अस्पताल ले जाया गया, जहां उसने दम तोड़ दिया. एएसपी विजय अग्रवाल ने बताया कि पुलिस आपसी रंजिश के एंगल पर भी काम कर रही है. आरोपी बदमाश को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है. आरोपी पृथ्वी सिंह और मृतक शिवप्रसाद के बीच पुरानी दोस्ती थी. मगर दोस्ती का अंजाम खूनी होगा ये किसी ने सोचा नहीं था.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें