scorecardresearch
 

डॉक्टर पति ने पहले किया पत्नी का कत्ल, फिर फांसी लगाकर दे दी जान

छत्तीसगढ़ के कवर्धा जिले में दिल दहला देने वाली एक घटना सामने आई है, जहां जिंदगी बचाने वाले डॉक्टर ही एक-दूसरे की जान ले बैठे. मरने वाले डॉक्टर पति पत्नी थे. पहले पति ने अपनी पत्नी को मौत के घाट उतारा और फिर खुद फांसी लगा कर जान दे दी. पडोसियों ने घर में लाश देखकर पुलिस को सूचना दी.

पुलिस मामले की छानबीन कर रही है पुलिस मामले की छानबीन कर रही है

छत्तीसगढ़ के कवर्धा जिले में दिल दहला देने वाली एक घटना सामने आई है, जहां जिंदगी बचाने वाले डॉक्टर ही एक-दूसरे की जान ले बैठे. मरने वाले डॉक्टर पति पत्नी थे. पहले पति ने अपनी पत्नी को मौत के घाट उतारा और फिर खुद फांसी लगा कर जान दे दी. पडोसियों ने घर में लाश देखकर पुलिस को सूचना दी.

घटना का खुलासा तब हुआ जब डॉक्टर दंपति के घर से बदबू आने पर पड़ोसियों ने घर में ताक झांक की. अंदर दोनों की लाश देखकर पडोसी सन्न रह गए और इस बात की जानकारी फौरन पुलिस को दी. सूचना मिलते ही पुलिस मौका-ए-वारदात पर पहुंच गई. पुलिस ने दोनों शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिए.

मृतका उषा के सिर पर चोट का निशान देखकर पुलिस को अंदेशा है कि विवाद के चलते डॉक्टर सूर्यवंशी ने पहले अपनी पत्नी उषा का कत्ल किया और फिर खुद फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली. पुलिस ने बताया कि दोनों पति-पत्नी कवर्धा जिले के सरकारी अस्पताल में कार्यरत थे. दोनों पिछले तीन दिनों से काम पर नहीं गए थे.

पुलिस ने घटना स्थल से दो पत्थर भी बरामद किए हैं. जिन पर खून के निशान लगे हैं. पुलिस के मुताबिक हत्या के लिए पत्थर का उपयोग किया गया था. पुलिस ने डॉक्टर सूर्यवंशी की अलमारी से एक डायरी भी बरामद की है. जिसमें पति ने पत्नी से नाखुश होने की बात लिखी है.

डॉक्टर दंपति के दो बच्चे भी हैं, जो घटना के वक्त वहां मौजूद नहीं थे. फिलहाल, पुलिस इस मामले की जांच पड़ताल में जुटी है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें