scorecardresearch
 

नौकरानी का यौन शोषण करने वाले अधेड़ के खिलाफ केस दर्ज

दिल्ली महिला आयोग ने 12 साल की एक घरेलू नौकरानी का यौन शोषण करने वाले अधेड़ मालिक के खिलाफ केस दर्ज कराया है. पीड़ित लड़की को नौकरी के नाम पर झारखंड के लातेहार से दिल्ली लाया गया था.

घरेलू नौकरानी का यौन शोषण घरेलू नौकरानी का यौन शोषण

दिल्ली महिला आयोग ने 12 साल की एक घरेलू नौकरानी का यौन शोषण करने वाले अधेड़ मालिक के खिलाफ केस दर्ज कराया है. पीड़ित लड़की को नौकरी के नाम पर झारखंड के लातेहार से दिल्ली लाया गया था. इसको मार्च 2017 में जंगपुरा के एक घर में घरेलू काम करने के लिए रखा गया था.

आरोप है कि पीड़िता को गैरकानूनी तरीके से कैद करके रखा गया था. वहां 55 वर्षीय मालिक उसका यौन शोषण करता था. उसके साथ मारपीट करता था. वह उस लड़की से अपने शरीर और गुप्तांगों की मालिश करवाता था. उसको ठीक से खाना भी नहीं दिया जाता था और उसकी हालत बहुत खराब थी.

उसकी आंख पर भी चोट के निशान थे. उसने बताया कि उसका मालिक, उसकी बीवी और उसकी पुत्रवधू उसको पीटते थे. उसको अपने माता-पिता से बात नहीं करने दिया जाता है. उसको अब तक काम करने का कोई पैसा भी नहीं दिया गया. एक दिन परिवार घर से बाहर गया, तो पीड़िता वहां से भाग गई.

रास्ते में उसे अकेले बैठकर रोता देख एक आदमी ने दिल्ली महिला आयोग की महिला हेल्पलाइन 181 पर फोन कर दिया. दिल्ली महिला आयोग की टीम तुरंत वहां पहुंची. लड़की को जंगपुरा थाने लेकर गई. पुलिस ने आईपीसी की धारा 342/323, पॉक्सो एक्ट 12 और जेजे एक्ट 23/26 के तहत केस दर्ज किया है.

दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्षा स्वाति जयहिन्द ने उपजिलाधिकारी को पत्र लिखकर एफआईआर में बंधुआ मजदूरी की धारा जुड़वाने को कहा है. महिला आयोग इस बच्ची के पुनर्वास के लिए उचित कदम उठायेगा. सैकड़ों लड़कियां झारखंड से दिल्ली लाकर बेंची जा रही हैं. उनको कई अत्याचार सहने पड़ रहे हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें