scorecardresearch
 

दिल्लीः डकैती के दौरान व्यापारी की गोली मार कर हत्या

दिल्ली के छतरपुर फार्म्स में बीती रात बदमाशों ने डकैती के दौरान एक व्यवसायी की गोली मार कर हत्या कर दी. डकैती से पहले बदमाशों ने वहां तैनात एक सुरक्षा गार्ड को क्लोरोफॉम सुंघाकर बेहोश कर दिया था. पुलिस ने मुस्तैदी दिखाते हुए तीन बदमाशों को धर दबोचा है.

पुलिस मामले की छानबीन कर रही है पुलिस मामले की छानबीन कर रही है

दिल्ली के छतरपुर फार्म्स में बीती रात बदमाशों ने डकैती के दौरान एक व्यवसायी की गोली मार कर हत्या कर दी. डकैती से पहले बदमाशों ने वहां तैनात एक सुरक्षा गार्ड को क्लोरोफॉम सुंघाकर बेहोश कर दिया था. पुलिस ने मुस्तैदी दिखाते हुए तीन बदमाशों को धर दबोचा है.

मामला दिल्ली में छतरपुर फार्म्स के तीन नम्बर बंगले का है. जहां 38 वर्षीय व्यापारी रोहन गुप्ता अपने पिता किशन गुप्ता और मां रश्मि के साथ रहते थे. बीती रात माता-पिता ग्राउंड फ्लोर पर जबकि रोहन पहली मंज़िल पर सो रहे थे. आधी रात के करीब एक बजे पांच बदमाशों ने बंगले पर धावा बोल दिया.

बंगले पर तैनात सुरक्षा गार्ड ने जैसे ही बदमाशों को देखा तो बदमाशों ने उसे दबोच लिया और क्लोरोफॉम सुंघाकर उसे बेहोश कर दिया. जब बदमाश बंगले के अंदर दाखिल हुए तो उन्होंने नीचे के कमरे में सो रहे बुजुर्ग दंपत्ति को बेहोश कर दिया. और सामान खंगालने लगे.

इसी दौरान रोहन जाग गए और उन्होंने बाहर आकर बदमाशों को देख लिया. रोहन ने उनका विरोध करते हुए शोर मचाने की कोशिश की तभी बदमाशों ने रोहन को बेहोश करने की कोशिश में उनके मुंह में रुमाल ठूंस दिया. रोहन फर्श पर गिर पड़े और कुछ ही पलों में उनकी मौत हो गई. रोहन के गिर जाने के बाद बदमाशों ने डकैती को अंजाम दिया और मौके से फरार हो गए.

वारदात के करीब एक घंटे के बाद रोहन गुप्ता के बगल वाले बंगले में रहने वाले शख़्स की गाड़ी गेट नंबर तीन पर आई. जहां सुरक्षा गार्ड पहले से ही बेहोश पड़ा था. कई बार हॉर्न बजाने के बाद भी जब गेट नहीं खुला तो कार में सवार नीरज नामक ड्राईवर ने बेहोश सुरक्षा गॉर्ड को देखा.

नीरज गार्ड को होश में लाने की कोशिश कर ही रहा था कि कुछ बदमाश रोहन गुप्ता के बंगले के गेट से बाहर आए. लेकिन वे नीरज के चिल्लाने पर बंगले में अंदर की तरफ भाग गए. बाद में पुलिस को सूचना दी गई तो विभाग में हड़कंप मच गया. मौके पर पुलिस के आला अधिकारी भी पहुंच गए.

साउथ दिल्ली के डीसीपी ईश्वर सिंह ने बताया कि बंगले के गॉर्ड को 5 लोगों ने बेहोश किया था. उसके बाद एक किचन की जाली काटकर अंदर घुसा और बाकी पीछे का दरवाजा खोलकर अंदर दाखिल हुए. बदमाशों ने घर की तलाशी ली, ज्वेलरी और मोबाइल फोन लूट लिए.

डीसीपी ने बताया कि किसी सज्जन ने जब पीसीआर को कॉल किया तो हमारी इमरजेंसी रेसपोंस टीम वहां पहुंच गई थी. पुलिस जब मौके पर पहुंची तब तक बदमाश लूट को अंजाम देकर फरार हो चुके थे. रोहन के मुंह में रुमाल ठूंसा गया था. रोहन के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है.

पुलिस ने तेजी से नाकेबंदी कर तीन बदमाशों को गिरफ्तार कर लिया. उसके पास से कुछ ज्वेलरी और 3 मोबाइल फोन भी बरामद हुए हैं. पुलिस को शक है कि इस वारदात में बदमाशों की मदद किसी स्थानीय आदमी ने की है. पुलिस पकड़े गए बदमाशों से पूछताछ कर रही है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें