scorecardresearch
 

बीएसएफ जवान की निर्मम हत्या, पुलिस को आपसी रंजिश का शक

पुलिस ने बताया कि जवान के शरीर को कई जगह से नोचा गया है, कई जगहों पर पीटने के भी निशान है. हत्यारों ने बीएसएफ जवान के चेहरे को पूरी तरह से क्षत-विक्षत कर दिया ताकि बीएसएफ जवान की पहचान नहीं हो सके.

मृतक बीएसएफ जवान प्रधान गुर्जर मृतक बीएसएफ जवान प्रधान गुर्जर

  • मृतक जवान के शरीर पर नोचने और पीटने के निशान
  • डिफेंस एकेडमी में अपने दो भाइयों से मिलने निकला था

राजस्थान के किशनगढ़ में बीएसएफ जवान की निर्मम हत्या का मामला सामने आया है. अजमेर जिले के तिलोनिया गांव में बुधवार को कीचड़ से सनी कार में बीएसएफ के जवान का शव मिला है. 27 साल का जवान प्रधान गुर्जर सिक्किम में पोस्टेड था और कुछ दिन पहले ही अपने गांव माली में छुट्टियों पर आया था.

जानकारी के मुताबिक उसके शरीर को कई जगह से नोचा गया है. कई जगहों पर पीटने के भी निशान है. हत्यारों ने बीएसएफ जवान के चेहरे को पूरी तरह से क्षत-विक्षत कर दिया ताकि बीएसएफ जवान की पहचान नहीं हो सके. दूसरी तरफ पुलिस का कहना है कि मरने वाले का भतीजा जीतू भी लापता है. जीतू, प्रधान गुर्जर के साथ घर से निकला था. जीतू और प्रधान गुर्जर करीब 8:30 बजे बोलेरो कार से अजमेर जाने के लिए कहकर निकले थे.

पुलिस के अनुसार पहले वह डिफेंस एकेडमी में अपने दो भाइयों से मिलने गया था. प्रधान के साथ उसकी बच्ची, बीएसएफ जवान का भतीजा जीतू और दो और लोग थे. ये रात को 12:30 बजे डिफेंस एकेडमी से निकले लेकिन घर नहीं पहुंचे. मृतक बीएसएफ जवान के दो बच्चे भी हैं.

बताया जा रहा है कि पहले ग्रामीणों ने तालाब में फांसी कार को देखा और ट्रैक्टर से खींचकर बाहर निकाला. उसके बाद उन्हें पुलिस को सूचना दी. जब पुलिस पहुंची तो गाड़ी अंदर से बंद थी और शीशों पर खून के धब्बे लगे हुए थे. मौत की जानकारी मिलने के बाद नाराज गांव वालों ने प्रदर्शन किया. पुलिस ने लोगों को समझाया और शवों का पोस्टमॉर्टम कराया गया है. पुलिस मामले की जांच कर रही है .प्रारंभिक तौर पर ये आपसी रंजिश का मामला लगता है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें