scorecardresearch
 

बिहारः पंजाब नेशनल बैंक की नकली 'कैश वैन' से हो रही थी शराब की तस्करी

बिहार में शराबबंदी कानून लागू हो चुका है लेकिन शराब की तस्करी है, कि रुकने का नाम नहीं ले रही. इस गोरखधंधे से जुड़े तस्कर हर रोज शराब की तस्करी के नायाब तरीके अपना रहे हैं. दरअसल इस बार तस्करों ने राज्य में शराब की तस्करी के लिए पंजाब नेशनल बैंक के स्टीकर लगी एक कैश वैन को चुना था. पुलिस ने कैश वैन से बरामद शराब की खेप के साथ दो लोगों को गिरफ्तार किया है.

पुलिस गिरफ्त में खड़े शराब तस्कर पुलिस गिरफ्त में खड़े शराब तस्कर

बिहार में शराबबंदी कानून लागू हो चुका है लेकिन शराब की तस्करी है, कि रुकने का नाम नहीं ले रही. इस गोरखधंधे से जुड़े तस्कर हर रोज शराब की तस्करी के नायाब तरीके अपना रहे हैं. दरअसल इस बार तस्करों ने राज्य में शराब की तस्करी के लिए पंजाब नेशनल बैंक के स्टीकर लगी एक कैश वैन को चुना था. पुलिस ने कैश वैन से बरामद शराब की खेप के साथ दो लोगों को गिरफ्तार किया है.

मामला बिहार के दरभंगा का है. दरअसल शातिर तस्करों ने इस बार पुलिस को चकमा देने के लिए एक वैन खरीदी. वैन की रंगाई-पुताई के बाद उस पर पंजाब नेशनल बैंक के स्टीकर लगाए गए. बकायदा वैन पर ऑन गर्वमेंट ड्यूटी लिखवाया गया और शुरु हो गया शराब की तस्करी का खेल. कैश वैन को तस्करों ने ऐसा रुप दिया कि पहली नजर में वैन को देखने पर हर कोई धोखा खा जाए.

दरभंगा पुलिस को इस बारे में मुखबिर के जरिए सूचना मिली कि पंजाब नेशनल बैंक की कैश वैन से शराब की तस्करी हो रही है. जानकारी मिलते ही पुलिस के आला अधिकारियों के होश फाख्ता हो गए. आनन-फानन में चेकिंग अभियान चलाए गए. जिसके बाद पुलिस ने छापेमारी कर कैश वैन समेत दो लोगों को गिरफ्तार कर लिया. पुलिस ने आरोपियों के पास से 156 पेटी विदेश शराब भी बरामद की.

दरभंगा के एएसपी दिलनवाज अहमद ने बताया कि पुलिस को इस बात की जानकारी मिली थी कि बैंक की कैश वैन से शराब की तस्करी की जा रही है. छापेमारी अभियान के दौरान कैश वैन बरामद कर ली गई. एएसपी ने बताया कि जब्त की गई शराब हरियाणा से लाई गई थी. वहीं कैश वैन पर भी हरियाणा की नंबर प्लेट लगी मिली है. फिलहाल पुलिस आरोपियों से पूछताछ कर गिरोह के दूसरे सदस्यों के बारे में पड़ताल कर रही है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें
ऐप में खोलें×