scorecardresearch
 

कौन है बिहार का वो पूर्व IPS, जिसे 'छोटे सरकार' से है जान का खतरा

पूर्व आईपीएस अधिकारी अमिताभ कुमार दास ने राज्य के पुलिस महानिदेशक गुप्‍तेश्‍वर पांडे को एक पत्र लिखा और उनसे सुरक्षा की मांगी की. अमिताभ का कहना है कि अनंत सिंह के साथ जो कुछ भी हो रहा है, वो इसके लिए उन्हें जिम्‍मेदार मानता है.

पुलिस मामले की छानबीन कर रही है (फाइल फोटो) पुलिस मामले की छानबीन कर रही है (फाइल फोटो)

बिहार के मोकामा से निर्दलीय विधायक और बाहुबली नेता अनंत सिंह का खौफ अब पुलिसवालों पर भी दिखाई दे रहा है. इसकी ताजा मिसाल हैं बिहार के पूर्व आईपीएस अफसर अमिताभ कुमार दास. जो अब सरकार से सुरक्षा की गुहार लगा रहे हैं. दरअसल, एके-47 राइफल और विस्‍फोटक बरामद होने के बाद से अनंत सिंह फरार है. अमिताभ कुमार ने अनंत सिंह से खुद को जान का खतरा बताया है.

पूर्व IPS ने लगाई गुहार

पूर्व आईपीएस अधिकारी अमिताभ कुमार दास ने राज्य के पुलिस महानिदेशक गुप्‍तेश्‍वर पांडे को एक पत्र लिखा है और उनसे सुरक्षा की मांगी की. अमिताभ का कहना है कि अनंत सिंह के साथ जो कुछ भी हो रहा है, वो इसके लिए उन्हें जिम्‍मेदार मानता है. अमिताभ का दावा है कि आरोपी विधायक ने उन्‍हें मारने के लिए 'सुपारी' तक दे डाली है. उनका कहना है कि अगर राज्य सरकार उन्हें सुरक्षा नहीं देगी तो वह कोर्ट में जाएंगे. बताया जा रहा है कि पूर्व आईपीएस अधिकारी अमिताभ कुमार दास ने ही अनंत सिंह के घर में हथियार बारूद होने की सूचना पुलिस को दी थी.

कौन हैं अनंत सिंह

अनंत सिंह बिहार के बाहुबली नेता माने जाते हैं. पहले वो राज्य की सत्तारुढ़ पार्टी JDU का हिस्सा थे. लेकिन अब वह मोकामा से निर्दलीय विधायक हैं. दबंग विधायक अनंत सिंह और विवादों का पुराना नाता है. कानून की किताब में शायद ही कोई ऐसी धारा बची हो जिसके तहत अनंत सिंह के नाम पर केस दर्ज न हो. अनंत सिंह के खिलाफ ढाई दर्जन से अधिक संगीन मामले दर्ज हैं. जिनमें कत्ल, अपहरण, फिरौती, डकैती और बलात्कार जैसे तमाम गंभीर मामले शामिल हैं. अकेले सिर्फ बिहार के बाढ़ थाने में ही कुल 23 संगीन मामले दर्ज हैं. ये बात दीगर है कि अनंत सिंह अपने रसूख से इनमें से कई मामलों में बरी हो चुके हैं.

छोटे सरकार के नाम से मशहूर है अनंत सिंह

लोगों के बीच दबंग विधायक अनंत सिंह 'छोटे सरकार' के नाम से मशहूर है. चर्चित अनंत सिंह का नाम कई घटनाओं में आ चुका है. जिसकी वजह से उन्हें पटना की बेऊर जेल में भी जाना पड़ा था. मर्सिडीज से लेकर बग्घी तक की सवारी करने वाले अनंत को हत्या और अपहरण के मामले में गिरफ्तार किया गया था. वो मामला चार युवकों के अपहरण और उनमें से एक की हत्या का था.

डबल मर्डर में आया नाम

अनंत सिंह का नाम एक बार फिर चर्चाओं में आया, जब एक फोन कॉल का ऑडियो वायरल हो गया. इसके बाद उन पर दो लोगों की हत्या की साजिश रचने का आरोप लगा है. इसी के चलते एफएसएल की टीम ने उनकी आवाज़ का सैंपल भी लिया है. अनंत सिंह पर इल्जाम है कि उन्होंने भोला सिंह और मुकेश सिंह की हत्या के लिए सुपारी दी थी. जिसका जिक्र एक फोन कॉल में था. और उसका ऑडियो वायरल हो गया था. अब एफएसएल टीम वायरल हुए ऑडियो से अनंत सिंह की आवाज़ का सैंपल मैच करेगी. पुलिस को अब उस रिपोर्ट का इंतजार है.

बतात चलें कि पिछले सप्ताह अनंत सिंह के घर पर पुलिस ने रेड की थी. जिसमें विधायक के घर से एक एके-47 राइफल और भारी मात्रा में कारतूस बरामद हुई थी. वहां से दो ग्रेनेड भी मिले थे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें