scorecardresearch
 

दिल्ली: जल्लाद बन गया पिता, आर्थिक तंगी और डिप्रेशन में बीवी-बच्चों को मार डाला!

दिल्ली के महरौली इलाके में एक पिता ने रूह कंपा देने वाला जुर्म किया है. पिता ने पत्नी, दो फूल सी बेटियों और मासूम बेटे का गला रेतकर मार डाला. इससे उस शख्स की मानसिक हालत का अंदाजा लगा सकते हैं. पड़ोसी कह रहे हैं कि उस शख्स की दिमागी हालत सही नहीं थी.

दिल्ली के महरौली में दिल दहलाने वाली वारदात हुई है. दिल्ली के महरौली में दिल दहलाने वाली वारदात हुई है.

दिल्ली के महरौली इलाके में एक पिता ने रूह कंपा देने वाला जुर्म किया है. इस जल्लाद ने अपनी पत्नी, दो फूल सी बेटियों और मासूम बेटे की गरदन चाकू से रेत दी. इससे उस शख्स की मानसिक हालत का अंदाजा लगा सकते हैं. पड़ोसी कह रहे हैं कि उस शख्स की दिमागी हालत सही नहीं थी. बिगड़ी मानसिक स्थिति में ही उसने अपने ही परिवार के साथ खूनी खेल खेला है.

डीसीपी विजय कुमार के मुताबिक सुबह 7 बजकर 10 मिनट पर पुलिस को कत्ल की जानकारी मिली. पेशे से टीचर उपेंद्र शुक्ला ने तीन बच्चों और पत्नी का कत्ल किया है. उसकी दो बेटी और एक बेटा है. आरोपी ने देर रात चाकू से सभी कत्ल किए हैं. उपेंद्र बिहार के चंपारण का रहने वाला है.

पुलिस ने बताया कि लाश के पास से उपेंद्र के लिखे दो नोट बरामद हुए हैं, जिसमें से एक हिंदी और एक अंग्रेजी में लिखा हुआ है. इन नोट्स में उपेंद्र ने लिखा कि ये सभी कत्ल मैंने किए हैं. मैं इसके लिए जिम्मेदार हूं. डीसीपी के मुताबिक उपेंद्र की पत्नी अर्चना डायबिटीज से पीड़ित थी और आर्थिक तंगी डिप्रेशन और कत्ल की वजह हो सकती है. उसकी सबसे बड़ी बेटी की उम्र 7 साल. दूसरी बेटी की उम्र डेढ़ महीने और बेटे की उम्र 5 साल थी.

पूछताछ में उस उपेंद्र ने खुद को डिप्रेशन में बताया. जिस घर में चारों लोगों के कत्ल हुए, उसी घर में आरोपी की मां भी रहती है. उसने देखा कि उपेंद्र दरवाजा नहीं खोल रहा है तो उसने सुबह पड़ोसी को सूचना दी. इसके बाद पड़ोसियों ने 100 नंबर पर फोन कर पुलिस को सूचना दी. पुलिस ने मौके पर पहुंचकर आरोपी को हिरासत में ले लिया. अब उससे पूछताछ की जा रही है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें