scorecardresearch
 

रेलवे टेंडर के दौरान युवक की गोली मारकर हत्या

लखनऊ के डीआरएम आफिस में दो बदमाशों एक शख्स की गोली मार कर हत्या कर दी. वारदात को अंजाम देने के बाद बदमाश एक व्यापारी की स्कूटी छीनकर फरार हो गए.

अभी तक पुलिस हत्यारोपियों का कोई सुराग नहीं लगा पाई है अभी तक पुलिस हत्यारोपियों का कोई सुराग नहीं लगा पाई है

लखनऊ के डीआरएम आफिस में उस वक्त हड़कम्प मच गया, जब वहां दो बदमाशों एक शख्स की गोली मार कर हत्या कर दी. वारदात को अंजाम देने के बाद बदमाश एक व्यापारी की स्कूटी छीनकर फरार हो गए. हत्या की वजह रेलवे टेंडर का विवाद बताया जा रहा है.

लखनऊ के हजरतगंज स्थित डीआरएम कार्यालय में शुक्रवार को टेंडर डाले जा रहे थे. इसलिए कार्यालय में कई ठेकेदार टेंडर डालने में व्यस्त थे. इसी दौरान ऑफिस की पार्किंग में टेंडर डालने आए दो गुटों में झड़प हो गई. विवाद इतना बढ़ा कि पहले दो बदमाशों ने आशीष पाण्डेय नामक शख्स की पिटाई की और बाद में उसे गोली मार दी. गोली लगते ही आशीष लहूलुहान होकर जमीन पर गिर पड़ा.

आशीष को गोली मारने के बाद दोनों हमलावर बाहर की तरफ भागे. और असलहे के बल पर एक व्यापारी की स्कूटी छीनकर मौके से फरार हो गए. व्यापारी आदर्श ने बताया कि उसका बेटा दुकान पर बैठा था. इसी दौरान दोनों बदमाशों ने उसे असलहा दिखाकर स्कूटी की चाबी ले ली और वहां से रफूचक्कर हो गए.

वारदात की सूचना मिलते ही पुलिस घटनास्थल पर पहुंच गई. खुद एसएसपी राजेश पाण्डेय पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंच गए. घायल आशीष को अस्पताल ले जाया गया जहां कुछ देर बाद ही उसे मृत घोषित कर दिया गया.

मृतक आशीष के साथ मौके पर मौजूद एक युवक ने पुलिस को बताया कि ठेकेदारी को लेकर आशीष और पप्पू सिंह नामक व्यक्ति के बीच विवाद हुआ था. जिसके चलते पप्पू ने आशीष को गोली मार दी.

पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज कर लिया है. आरोपियों की तलाश की जा रही है. मामले को पूर्वांचल के बाहुबलियों से भी जोड़कर देखा जा रहा है. फिलहाल, पुलिस इस मामले पर कुछ भी कहने को तैयार नहीं है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें