scorecardresearch
 

बाबा रामदेव के मुद्दे पर भाजपा करेगी राष्ट्रपति से मुलाकात

भाजपा ने कहा कि वह योग गुरू बाबा रामदेव के आंदोलन के खिलाफ की गई कार्रवाई के मुद्दे पर देश भर में शांतिपूर्ण प्रदर्शन करेगी और राष्ट्रपति प्रतिभा पाटिल से मुलाकात करके उनसे इस मुद्दे पर बहस के लिए संसद का विशेष सत्र बुलाने का आग्रह करेगी.

भाजपा ने आज कहा कि वह योग गुरू बाबा रामदेव के आंदोलन के खिलाफ की गई कार्रवाई के मुद्दे पर देश भर में शांतिपूर्ण प्रदर्शन करेगी और राष्ट्रपति प्रतिभा पाटिल से मुलाकात करके उनसे इस मुद्दे पर बहस के लिए संसद का विशेष सत्र बुलाने का आग्रह करेगी.

भाजपा अध्यक्ष नितिन गडकरी समेत पार्टी के आला नेता इस समय राजघाट पर सत्याग्रह कर रहे हैं. पार्टी ने सरकार पर आरोप लगाया है कि वह भ्रष्ट लोगों का ‘बचाव’ कर रही है.

भाजपा के मुख्य प्रवक्ता रविशंकर प्रसाद ने कहा, ‘हम इस मुद्दे पर राष्ट्रपति के हस्तक्षेप की मांग करेंगे. हम उनसे आज शाम को मुलाकात करेंगे. लालकृष्ण आडवाणी ने कल कहा था कि भाजपा इस मुद्दे पर बहस के लिए संसद के विशेष सत्र की मांग करेगी.’ आडवाणी, गडकरी, सुषमा स्वराज और अरुण जेटली समेत कई नेता सत्याग्रह स्थल पर मौजूद हैं.

प्रसाद ने कहा कि कांग्रेस को याद रखना चाहिए कि भाजपा ने ‘गॉडमदर ऑफ इंडिया’ इंदिरा गांधी के खिलाफ संघर्ष किया और उसमें सफल भी हुई.

उन्होंने कहा, ‘एक बात जो कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और प्रधानमंत्री को याद रखनी चाहिए, वह यह कि भाजपा ने इंदिरा गांधी के खिलाफ संघर्ष किया और उसमें विजेता बन कर उभरी थी.’

प्रसाद ने कहा, ‘देश के लोगों ने तब एक सबक सिखाया था. वे इन लोगों को भी सबक सिखाएंगे. पूरा देश नाराज है और आंदोलन के मूड में है. सरकार अपने सारे नैतिक अधिकार खो चुकी है. वह बाबा रामदेव के आंदोलन जैसे शांतिपूर्ण प्रदर्शनों को कुचलती है और सय्यद अली शाह गिलानी के भाषणों और रैलियों जैसे भारत विरोधी कार्यक्रमों की अनुमति देती है.’

भाजपा ने कल बाबा रामदेव के समर्थकों पर कार्रवाई के खिलाफ आंदोलन शुरू करते हुए सरकार से कहा था कि वह विदेशों में जमा काला धन वापस लाए.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें