scorecardresearch
 

रोहिणी जेल में गैंगवार, 17 कैदी गंभीर रूप से घायल

एशिया की सबसे सुरक्षित मानी जाने वाली तिहाड़ जेल के बाद दिल्ली के रोहिणी जेल में गैंगवार हुआ है. बुधवार रात हुए इस गैंगवार में 17 से ज्यादा कैदियों को गंभीर चोट आई है. किसी कान कटा है, तो किसी के चेहरे पर गंभीर जख्म है. सभी कैदियों का बाबा साहेब आंबेडकर अस्पताल में इलाज हो रहा है. जेल प्रशासन घटना की जांच कर रहा है.

दिल्ली के रोहिणी जेल में गैंगवार दिल्ली के रोहिणी जेल में गैंगवार

एशिया की सबसे सुरक्षित मानी जाने वाली तिहाड़ जेल के बाद दिल्ली के रोहिणी जेल में गैंगवार हुआ है. बुधवार रात हुए इस गैंगवार में 17 से ज्यादा कैदियों को गंभीर चोट आई है. किसी कान कटा है, तो किसी के चेहरे पर गंभीर जख्म है. सभी कैदियों का बाबा साहेब आंबेडकर अस्पताल में इलाज हो रहा है. जेल प्रशासन घटना की जांच कर रहा है.

जानकारी के मुताबिक, रोहिणी जेल में करीब 40 कैदियों के बीच हुई जमकर मारपीट के बीच ब्लेडबाजी हुई है. बुधवार रात करीब 10 बजे कुछ कैदियों में झगड़ा शुरू हुआ और देखते ही देखते करीब 40 कैदी आपस में भिड़ते चले गए. इस दौरान एक-दूसरे पर ब्लेड के वार के साथ लाठी-डंडे भी चले. यह जंग जेल में वर्चस्व की के लिए हुई थी.

इस गैंगवार की सूचना जेल प्रशासन तक पहुंचते-पहुंचते 17 कैदी बुरी तरह लहुलुहान हो चुके थे. सभी का बाबा साहेब आंबेडकर अस्पताल में इलाज कराया गया है. जेल में हुए इस खूनी खेल ने जेल प्रशासन पर बड़ा सवाल खड़ा कर दिया है. आखिर कैदियों के हाथ घातक और धारदार सामान कैसे लगे हैं. इस खूनी खेल को काबू क्यों नहीं किया गया.

बताते चलें कि पिछले साल 25 अगस्त 2015 को गैंगस्टर नीरज बवानिया और नीतू दाबोड़िया के बीच खूनी झड़प हुई थी. रोहिणी कोर्ट में पेशी के बाद जब दोनों गुटों के करीब 9 बदमाशों को लेकर जेल वैन वापस जा रही थी, तभी दीपाली चौक के पास वैन में बैठे बदमाशों के बीच झड़प हो गई. इसमें दो बदमाश मारे गए थे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें