scorecardresearch
 

UP: नौकरी दिलाने के नाम पर कर रहे थे ठगी, बना रखी थी फर्जी वेबसाइट, STF ने दबोचा

लखनऊ (Lucknow) में एसटीएफ (STF) ने ठगी (Fraud) करने वाले दो शातिरों को गिरफ्तार (Arrest) किया है. दोनों शातिर अपराधी नौजवानों को गुमराह करने के लिए फर्जी वेबसाइट (Fake Website) और संस्था बनाकर ठगी करते थे.

X
यूपी एसटीएफ ने दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है. (सांकेतिक तस्वीर) यूपी एसटीएफ ने दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है. (सांकेतिक तस्वीर)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • फर्जी वेबसाइट और संस्था बनाकर कर रहे थे ठगी
  • एसटीएफ ने आलमबाग इलाके से किया गिरफ्तार
  • लोगों से नौकरी दिलाने के नाम पर करते थे ठगी

लखनऊ (Lucknow) में एसटीएफ (STF) ने ठगी (Fraud) करने वाले दो शातिरों को गिरफ्तार (Arrest) किया है. दोनों शातिर अपराधी नौजवानों को गुमराह करने के लिए फर्जी वेबसाइट (Fake Website) और संस्था बनाकर ठगी करते थे. नौकरी के नाम पर लोगों से पैसे ऐंठते थे. एसटीएफ ने आलमबाग इलाके से दोनों को गिरफ्तार किया है. 

बताया जा रहा है कि दोनों शातिर भारत स्काउट गाइड के नाम पर नेशनल स्काउट गाइड बनाकर सरकारी विभागों में नौकरी दिलाने के बहाने लोगों से पैसे लेते थे. यही नहीं ये लोग फर्जी संस्था बनाकर बेरोजगार लोगों को ट्रेनिंग और सरकारी नौकरी दिलाने के नाम पर भी ठगते थे.

दोनों ने आलमबाग के आनंद नगर में ऑफिस भी खोल रखा था. डिस्ट्रिक्ट को-ऑर्डिनेटर के पद पर भर्ती निकालकर ये लोग डेढ़ लाख रुपये वसूल रहे थे. इस बार ये दोनों एसटीएफ के हत्थे चढ़ गए और दोनों को गिरफ्तार कर लिया गया.

बिहार: IAS बनने का ख्वाब देखने वाला बन गया ATM क्लोनर, पुलिस ने रंगे हाथों पकड़ा

वहीं, यूपी के ही एक सॉफ्टवेयर इंजीनियर को गिरफ्तार किया गया है. कोरोना काल में नौकरी चली जाने के बाद इस शख्स ने ऑनलाइन ठगी का रास्ता चुना और अब पुलिस की हिरासत में है.

सॉफ्टवेयर इंजीनियर ने अपने कुछ साथियों के साथ मिलकर एक हैकर गैंग बनाया और अमेरिकी कंपनियों को टारगेट कर करोड़ो की अवैध वसूली करने लगा. पुलिस ने इस गैंग के सरगना समेत चार लोगों को गिरफ्तार किया है, अब इनसे पूछताछ की जा रही है. गिरोह का सरगना मोबाइल हैकिंग में एक्सपर्ट बताया जा रहा है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें