scorecardresearch
 

सेना के ऑपरेशन से बौखलाए आतंकी कमांडर, पुलवामा जैसे हमले की तैयारी, जम्मू-कश्मीर में अलर्ट

कड़ाके की ठंड के बाद भी इस समय एलओसी पर आतंकी एक्टिव हैं. खुफिया एजेंसियों के हाथ जो चैट्स लगे हैं, इसमें आतंकी सुसाइड बॉम्बिंग के बारे में बात कर रहे हैं.

खुफिया चैट्स हाथ लगने के बाद सुरक्षाबल अलर्ट हो गए हैं. जम्मू-कश्मीर में चौकसी बढ़ा दी गई है. खुफिया चैट्स हाथ लगने के बाद सुरक्षाबल अलर्ट हो गए हैं. जम्मू-कश्मीर में चौकसी बढ़ा दी गई है.
स्टोरी हाइलाइट्स
  • बर्फबारी में भी LOC पर 35 लॉन्च पैड एक्टिव
  • 400 आतंकियों को अपनी बारी का इंतजार
  • खुफिया चैट्स में सुसाइड बॉम्बिंग की बात

जम्मू-कश्मीर में सुरक्षा बलों ने आतंकियों और पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई के बीच होने वाले चैट्स को इंटरसेप्ट किया है. इन चैट्स में खुलासा हुआ है कि जम्मू-कश्मीर में सेना के ऑपरेशन से आतंकियों के सीमा पार बैठे कमांडर बौखला गए हैं. खुफिया सूत्रों के मुताबिक आईएसआई जम्मू-कश्मीर में हिजबुल मुजाहिदीन के आतंकियों से पुलवामा जैसा आत्मघाती हमला कराने की फिराक में हैं.


सिर्फ सुसाइड बॉम्बिंग पर फोकस
खुफिया एजेंसियों ने जो चैट्स पकड़े हैं, इसमे आतंकियों से कहा जा रहा है कि उन्हें सिक्योरिटी फोर्सेस पर सिर्फ आत्मघाती हमला करना है. जानकारी सामने आते ही पूरे जम्मू-कश्मीर में बर्फबारी के बावजूद सुरक्षाबल अलर्ट हो गए हैं. आज भी एक पकितानी आतंकी सुरक्षाबलों के हाथों मारा गया.

आतंकियों से भरे पड़े हैं लॉन्च पैड्स
पिछले कुछ सालों में देखा गया है कि कड़ाके की सर्दी में आतंकी घुसपैठ कम होती है. विशेषज्ञों के मुताबिक POK से आने वाले रास्तों में भारी बर्फबारी से घुसपैठ के रास्ते बंद हो जाते हैं. लेकिन इस बार पाकिस्तान भारतीय सुरक्षाबलों के ऑपरेशन से बौखलाया हुआ है. इसलिए सर्दी में भी लॉन्च पैड पर 300 से 400 आतंकी पाकिस्तान की आर्मी और आईएसआई ने जमा किए हुए हैं. 

आर्मी चीफ ने भी किया अलर्ट
सेना प्रमुख एमएम नरवणे ने भी अपनी प्रेस कांफ्रेंस में कहा है कि पाक अधिकृत कश्मीर के लॉन्च पैड पर इस समय भारी संख्या में आतंकियों को इकठ्ठा किया गया है.

30 से 35 लॉन्च पैड्स सक्रिय
आजतक को मिली ख़ुफ़िया रिपोर्ट के मुताबिक पाक आर्मी ने आतंकियों की घुसपैठ के लिए मछल सेक्टर, गुरेज़ सेक्टर, तंगधार सेक्टर केरन सेक्टर और उरी सेक्टर के सामने लाइन ऑफ कंट्रोल के दूसरी तरफ 30 से 35 लॉन्च पैड सक्रिय कर रखे हैं. इन लॉन्च पैड पर लश्कर, जैश, हिज्बुल मुजाहिदीन, अल बदर के आतंकियों को इकट्ठा किया गया है.

इसमें आतंकी संगठनों के आधा दर्जन से ज़्यादा ग्रुप मछल सेक्टर के ठीक सामने लॉन्चिंग पैड पर मौजूद हैं तो वहीं गुरेज़ सेक्टर के ठीक सामने लॉन्च पैड-सोनार, लोसार और शेर खान टॉप पर भी उनकी मौजूदगी है. सूत्रों ने जानकारी दी है कि केरन सेक्टर के सामने लश्कर और हिज्बुल मुजाहिदीन के सबसे ज़्यादा आतंकी मौजूद हैं, जो कि घुसपैठ करने के लिए अपनी बारी का इंतजार कर रहे हैं. पाकिस्तान के एसएसजी कमांडो इनको घुसपैठ करने में मदद कर रहा हैं.

BSF ने बॉर्डर पर 20 दिनों का अलर्ट जारी किया
सुरक्षा में कोई चूक न हो इसलिए BSF ने 26 जनवरी और नए साल तक के लिए बॉर्डर पर चौकस रहने का अलर्ट सभी सेक्टर को जारी किया है. सूत्रों के मुताबिक BSF ने जम्मू-कश्मीर, पंजाब, राजस्थान, गुजरात के बॉर्डर के लिए अलर्ट कर रखा है. सुरक्षाबलों को किसी भी तरीके के आतंकी हमले से निपटने के लिए तैयार रहने को कहा गया है. साथ ही 4.ICP ( इंटीग्रेटेड चेक पोस्ट) अटारी बॉर्डर, हुसैनीवाला बॉर्डर और, करतारपुर कॉरिडोर पर  बीएसफ़ ने अतिरिक्त सुरक्षा बढ़ाई है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें
ऐप में खोलें×