scorecardresearch
 

एंटीलिया केस में एक और कार, NIA को मिली मर्सिडीज, PPE किट वाले शख्स का भी खुलासा

मुंबई में एंटीलिया के बाहर मिली स्कॉर्पियो कार की असली नंबर प्लेट एक ब्लैक मर्सिडीज कार से बरामद की गई है. यह कार एनआईए की टीम ने बरामद की है. उस संदिग्ध कार से कई और नंबर प्लेट भी मिली हैं. वो काली कार मुंबई क्राइम ब्रांच के ऑफिस के पास एक पार्किंग में खड़ी थी.

X
एंटीलिया के बाहर से संदिग्ध एसयूवी विस्फोटक के साथ मिली थी एंटीलिया के बाहर से संदिग्ध एसयूवी विस्फोटक के साथ मिली थी
स्टोरी हाइलाइट्स
  • एंटीलिया के बाहर मिली थी विस्फोटक भरी SUV
  • मनसुख हिरेन की बताई जा रही थी वो कार
  • उसी कार की असली नंबर प्लेट मर्सिडीज से बरामद
  • कार के पहले मालिक सारांश भावसार आज PC करेंगे

मुंबई में एंटीलिया के बाहर मिली स्कॉर्पियो कार की असली नंबर प्लेट एक ब्लैक मर्सिडीज कार से बरामद की गई है. यह कार एनआईए की टीम ने बरामद की है. उस संदिग्ध कार से कई और नंबर प्लेट भी मिली हैं. वो काली कार मुंबई क्राइम ब्रांच के ऑफिस के पास एक पार्किंग में खड़ी थी. जिसे एनआईए ने कब्जे में ले लिया है. 

एंटीलिया मामले की जांच में जुटी एनआईए टीम सबूतों की तलाश कर रही है. उसी दौरान NIA ने ब्लैक मर्सिडीज कार बरामद की है. जिसे एक अहम सबूत माना जा रहा है. ब्लैक मर्सिडीज कार की तलाशी में ही स्कॉर्पियो की मूल नंबर प्लेट भी एनआईए के हाथ लग गई है. 

इसके अलावा भी उस मर्सिडीज कार से कई नंबर प्लेट बरामद हुई हैं. साथ ही 5 लाख 75000 रुपये और पेट्रोल और डीजल भी बरामद किया गया है. जानकारी के मुताबिक एक जगह बाहर सचिन वाज़े ढीले कुर्ते में दिखते हैं, जो पीपीई किट की तरह दिखता है. कार में रखे ईंधन से वह कुर्ता जल गया था.

धुले शहर में मर्सिडीज कार का मालिक

जानकारी के मुताबिक एपीआई सचिन वाज़े वो कार चलाता था. जिसका नंबर एमएच 9095 है. यह ब्लैक मर्सिडीज कार मुंबई क्राइम ब्रांच ऑफिस के पास एक कार पार्किंग से बरामद की गई है.

मर्सिडीज कार का मालिक धुले शहर में रहता है. मर्सिडीज कार के मलिक ने कुछ दिन पहले ही ये कार किसी और को बचने का दावा किया है. इस बीच कार के पहले मालिक सारांश भावसार आज बुधवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस के जरिये इसका खुलासा करने वाले हैं. 

मुंबई में एनआईए ब्रांच के प्रमुख आईजी अनिल शुक्ला ने बताया कि एक मर्सिडीज एनआईए ने बरामद की है. अभी तक ये मालूम नहीं है कि कौन इसका मालिक था, तो इस कार का इस्तेमाल सचिन वाज़े ने किया था. इस कार से 5 लाख से अधिक की नकदी, कपड़े और पैसे की गिनती करने वाली मशीन भी बरामद हुई है. हमने जिलेटिन स्टिक से लदी स्कॉर्पियो कार की असली नंबर प्लेट को बरामद कर लिया है, जो उस मर्सिडीज कार में मिली है. यह कार किसकी है, अब इसकी जांच की जा रही है.

इनोवा कार का पता भी चला

आपको बता दें कि इससे पहले एंटीलिया के बाहर स्कॉर्पियो के साथ पहुंची इनोवा कार का पता भी चल गया था. जिसमें स्कॉर्पियो का ड्राइवर बैठकर मौके से फरार हो गया था. मुंबई के मुलुंड टोल नाके पर इनोवा में दो लोगों को देखा गया था. 

बाद में पता चला था कि वो इनोवा कार मुंबई क्राइम ब्रांच की थी. जांच पड़ताल में ही इस बात का खुलासा हुआ था कि वो इनोवा कार मुंबई पुलिस की अपराध शाखा (CIU) यूनिट की है. एंटीलिया केस में फिलहाल मुंबई पुलिस के एक और अफसर रियाज काजी से भी पूछताछ की जा रही है. 

शुरुआत में क्राइम ब्रांच ही इस मामले की जांच कर रही थी. सूत्रों के मुताबिक इस मामले में दो कारों का इस्तेमाल किया गया था. स्कॉर्पियो कार में जिलेटिन की छड़ रखी गई थीं. एक दूसरी कार इनोवा थी जो स्कॉर्पियो के पीछे-पीछे चल रही थी. मुंबई के चेंबूर इलाके में इनोवा और स्कॉर्पियो कार एक साथ मिलीं और फिर दोनों एंटीलिया की तरफ कारमाइकल रोड की तरफ बढ़ गईं थी.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें