scorecardresearch
 

डिप्टी जेलर पर हमले के मामले में तय होगा आरोप, 11 अगस्त को मुख्तार की पेशी

एमपी-एमएलए कोर्ट के आदेश के मुताबिक 11 अगस्त के दिन मुख्तार अंसारी को व्यक्तिगत तौर पर पेश होना होगा. डिप्टी जेलर पर हमले और जेल में बलवा कराने के मामले में मुख्तार अंसारी भी आरोपी है.

मुख्तार को होना होगा पेश (फाइल फोटो) मुख्तार को होना होगा पेश (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • बांदा कोर्ट ने मुख्तार से 11 अगस्त को पेश होने को कहा
  • डीजी जेल और अन्य अधिकारियों को भेजा गया आदेश

पूर्वी उत्तर प्रदेश के मऊ जिले की मऊ सदर सीट से विधायक मुख्तार अंसारी की मुश्किलें खत्म होती नहीं नजर आ रहीं. मुख्तार अंसारी की मुश्किलें बढ़ती दिख रही हैं. मुख्तार अंसारी को 11 अगस्त के दिन कोर्ट में पेश किया जाएगा. मुख्तार अंसारी को 11 अगस्त के दिन एमपी-एमएलए कोर्ट में पेश किया जाएगा. बताया जाता है कि एमपी-एमएलए कोर्ट में 11 अगस्त के दिन डिप्टी जेलर पर हमले और जेल में बलवा कराने के मामले में सुनवाई होनी है.

एमपी-एमएलए कोर्ट के आदेश के मुताबिक 11 अगस्त के दिन मुख्तार अंसारी को व्यक्तिगत तौर पर पेश होना होगा. डिप्टी जेलर पर हमले और जेल में बलवा कराने के मामले में मुख्तार अंसारी भी आरोपी है. लखनऊ की एमपी-एमएलए कोर्ट में इस मामले की सुनवाई चल रही है. कोर्ट ने डिप्टी जेलर पर हमले और जेल में बलवा कराने के मामले में अगली सुनवाई के लिए 11 अगस्त की तारीख निर्धारित की है.

एमपी-एमएलए कोर्ट में 11 अगस्त को सुनवाई के दौरान मुख्तार अंसारी को व्यक्तिगत रूप से पेश होना होगा. कोर्ट के इस निर्देश के बाद इस तरह की संभावना जताई जा रही है कि डिप्टी जेलर पर हमले और जेल में बलवा कराने के मामले में 11 अगस्त को पेशी होगी. लखनऊ के एमपी-एमएलए कोर्ट का आदेश डीजी जेल लखनऊ के साथ ही कई आला पुलिस अधिकारियों को भेज दिया गया है.

एमपी-एमएलए कोर्ट का आदेश डीजी जेल लखनऊ के साथ ही लखनऊ पुलिस कमिश्नर और अन्य अधिकारियों को भी भेज दिया गया है. गौरतलब है कि मुख्तार अंसारी इस समय यूपी के उच्च सुरक्षा वाले बांदा जेल में बंद हैं. पंजाब के रोपड़ से मुख्तार को कड़ी सुरक्षा के बीच बांदा लाया गया था. मऊ के बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी तब से बांदा जेल में ही बंद हैं.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें