scorecardresearch
 

मेहुल चोकसी ने खोला पड़ोसी महिला का राज, डोमिनिका पुलिस को पत्र लिख कहा- मुझे यहां जबरन लाया गया

पीएनबी स्कैम के आरोपी भगोड़े मेहुल चोकसी ने डोमिनिका पुलिस को पत्र लिखकर मदद की गुहार लगाई है. उसने बारबरा को लेकर भी कई बातें बताई हैं. मेहुल का कहना है बारबरा उसके पड़ोस में रहती थी.

मेहुल चोकसी. (फाइल फोटो) मेहुल चोकसी. (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • बारबरा के घर गया था मेहुल
  • मेहुल का दावा- वो पिटता रहा, बारबरा बचाने तक नहीं आई
  • पुलिस को पत्र लिख लगाई मदद की गुहार

पीएनबी स्कैम के आरोपी भगोड़े मेहुल चोकसी ने डोमिनिका पुलिस को पत्र लिखकर मदद की गुहार लगाई है. उसने बारबरा को लेकर भी कई बातें बताई हैं. मेहुल का कहना है बारबरा उसके पड़ोस में रहती थी. वो दोनों अक्सर साथ में वॉक के लिए जाते थे. 23 मई को बारबरा ने मेहुल से उसे पिक करने को कहा. वह उसके घर गया तो वह वाइन पी रही थी. उसने मेहुल को थोड़ी देर रुकने के लिए कहा.

मेहुल का कहना है कि दोनों की आपस में बातचीत हो रही थी कि अचानक उन्हें शोर सुनाई दिया, जिसके बाद उसने देखा कि 8-10 हट्टे कट्टे लोग आए और खुद को एंटीगुआ की पुलिस बताया. मेहुल का कहना है कि इस दौरान उन लोगों ने मेरे साथ मारपीट की. उसका कहना है कि इस सबके बीच बारबरा ने एकबार भी मुझे बचाने की कोशिश नहीं की. मेहुल ने पत्र में खुद को एंटीगुआ का नागरिक बताया है और पुलिस से मदद की गुहार लगाई है.

उधर, भगोड़े मेहुल चोकसी को लेकर डोमिनिका के प्रधानमंत्री रूजवेल्ट स्केरिट ने पहली बार अपनी चुप्पी तोड़ी है. उन्होंने प्रेस स्टेटमेंट जारी कर कहा है कि मेहुल के अधिकारों का सम्मान किया जाएगा. उन्होंने कहा कि मेहुल का मामला कोर्ट में है, कोर्ट तय करेगी कि मेहुल के साथ क्या करना है. उन्होंने कहा कि नियमों का पालन किया जाएगा. मैं  इस मामले पर सार्वजनिक तौर पर बयान जारी कर मामले में नहीं पड़ना चाहता.

इसपर भी क्लिक करें- मेहुल चोकसी को डोमिनिका से लाने के लिए हिन्दुस्तान ने भेजा है खास जेट विमान, जानें कितना हो जाएगा खर्च

एसोसिएटडेट प्रेस के मुताबिक उन्होंने कहा कि मेहुल के अधिकारों का सम्मान किया गया है और यह आगे भी किया जाएगा. कोर्ट को फैसला करने दीजिए कि आगे क्या करना है.हमें इस मामले को लेकर कोई आपत्ति नहीं है. यह मसला चाहे एंटीगुआ से जुड़ा हो या भारत से.हम अपने देश का हिस्सा हैं और हमें हमारे कर्तव्य और जिम्मेदारियों का पालन करना चाहिए.

 

 

उधर, मेहुल की पत्नी प्रीति ने कहा कि मेहुल इस मामले में अपना पक्ष साफ करना चाहते हैं लेकिन उनकी जान को खतरा है.डोमिनिका में Q95 एफएम रेडियों पर Carlisle Jno Baptiste से बातचीत के दौरान प्रीति ने कहा कि मेहुल ने इस मामले में सभी वैध माध्यमों का सहारा लिया है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें
ऐप में खोलें×