scorecardresearch
 

टूलकिट केसः एक जज सुन रहे थे पुलिस की अर्जी, दूसरे ने दी दिशा रवि को जमानत

एक कोर्ट में जज पुलिस की ओर से कस्टडी बढ़ाने के लिए दायर अर्जी पर सुनवाई कर रहे थे तो दूसरी कोर्ट में दिशा की जमानत पर सुनवाई चल रही थी. एक कोर्ट में सुनवाई पूरी हो पाती, उससे पहले ही दूसरी कोर्ट ने दिशा रवि को जमानत दे दी.

टूलकिट केस में दिशा रवि को मिली जमानत (फाइल फोटो) टूलकिट केस में दिशा रवि को मिली जमानत (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • पटियाला हाउस कोर्ट ने दी सशर्त जमानत
  • एक लाख के निजी मुचलके पर मिली जमानत
  • दिशा को जमानत में देश न छोड़ने की शर्त 

टूलकिट मामले में आरोपी पर्यावरण एक्टिविस्ट दिशा रवि मंगलवार रात को तिहाड़ जेल से रिहा हो गईं. पटियाला हाउस कोर्ट ने दिशा रवि को निजी मुचलके पर जमानत दी थी, जिसके बाद उनकी रिहाई हुई. एडिशनल सेशंस जज धर्मेंद्र राणा ने दिशा रवि को 1 लाख रुपयों के पर्सनल बांड और 1-1 लाख रुपयों के 2 श्योरिटी अमाउंट्स पर जमानत देते हुए कहा कि आरोपी का कोई आपराधिक इतिहास नहीं है.

वहीं, रिहाई के बाद दिशा की मां मंजुला रवि ने कहा कि हमें अपने देश की न्यायिक प्रणाली पर भरोसा है. हम आज बहुत खुश हैं और एक मां के रूप में भी मैं खुश हूं. दिशा हमेशा सच्चाई की तरफ रही है. हम नहीं जानते कि क्या हुआ है, हम सभी का मानना ​​है कि उसने हमेशा सच्चाई के लिए काम किया है, उसने सच्चाई को बरकरार रखा है.

दो जगह चल रही थी सुनवाई

दिशा रवि से जुड़े मामले की मंगलवार को दो जगह सुनवाई चल रही थी. एक कोर्ट में जज पुलिस की ओर से कस्टडी बढ़ाने के लिए दायर अर्जी पर सुनवाई कर रहे थे तो दूसरी कोर्ट में दिशा की जमानत पर सुनवाई चल रही थी. एक कोर्ट में सुनवाई पूरी हो पाती, उससे पहले ही दूसरी कोर्ट ने पर्यावरण कार्यकर्ता दिशा रवि को जमानत दे दी.

हुआ यह कि दिशा रवि की एक दिन की पुलिस कस्टडी खत्म होने पर दिशा रवि को दिल्ली पुलिस ने पटियाला हाउस कोर्ट में पेश किया. दिल्ली पुलिस ने दिशा को एसीएमएम पंकज शर्मा की कोर्ट में पेश किया और पुलिस कस्टडी चार दिन के लिए बढ़ाने की अर्जी लगा दी. इस मामले में सुनवाई अभी चल ही रही थी कि पटियाला हाउस कोर्ट की सेशन कोर्ट के जज धर्मेंद्र राणा ने दिशा रवि की जमानत अर्जी पर फैसला सुना दिया. सेशन कोर्ट ने दिशा रवि को जमानत दे दी.

इसके बाद वकीलों को भी दौड़ भाग करनी पड़ी. भागते हुए वकील दोबारा उस कोर्ट में पहुंचे जहां पर दिल्ली पुलिस की उस अर्जी पर सुनवाई चल रही थी जिसमें 4 दिन की पुलिस कस्टडी बढ़ाने की मांग की गई थी. दिशा के वकीलों ने कोर्ट को बताया कि टूलकिट मामले में आरोपी दिशा को जमानत मिल चुकी है. लिहाजा अब दिल्ली पुलिस की उस अर्जी पर सुनवाई का कोई औचित्य नहीं है जिसमें पुलिस कस्टडी बढ़ाने की मांग की गई है.

दिशा के वकीलों की ओर से उसकी जमानत की जानकारी दिए जाने पर दिल्ली पुलिस की अर्जी पर सुनवाई कर रहे जज पंकज शर्मा ने यह कहते हुए इस याचिका का निपटारा कर दिया कि जमानत मिलने के बाद अब पुलिस की अर्जी पर सुनवाई की कोई जरूरत नहीं है. दिशा रवि को पटियाला हाउस कोर्ट ने कुछ शर्तों के साथ जमानत दी है, जिसमें देश से बाहर न जाने की शर्त भी शामिल है.

जमानत की शर्तों में यह शर्त भी है कि इस मामले से जुड़े सबूतों और गवाहों को नष्ट करने या उन्हें प्रभावित करने की कोशिश दिशा रवि की ओर से नहीं की जाएगी. दिशा रवि को पटियाला हाउस कोर्ट ने एक लाख रुपये के निजी मुचलके पर जमानत दी है. साथ ही दिशा को एक-एक लाख के दो बांड भी कोर्ट में जमा कराने होंगे. कोर्ट का फैसला आते ही दिशा रवि और कोर्ट में मौजूद उसके परिजन बेहद खुश नजर आए.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें