scorecardresearch
 

एंटीलिया केसः सचिन वाजे को सात अप्रैल तक NIA की कस्टडी में भेजा गया

NIA ने सचिन वाजे के खिलाफ UAPA की कई धाराएं भी लगाई हैं. इससे पहले सचिन वाजे के वकील ने कोर्ट में आवेदन दिया था कि उन्हें सीने में दर्द और हार्ट ब्लॉकेज की समस्या रहती है. इसके बाद NIA कोर्ट ने वाजे की मेडिकल रिपोर्ट मांगी थी. 

NIA की कस्टडी में रहेंगे सचिन वाजे (फाइल फोटो) NIA की कस्टडी में रहेंगे सचिन वाजे (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • NIA की कस्टडी में भेजे गए सचिन वाजे
  • एंटीलिया केस में मुख्य आरोपी हैं सचिन वाजे

मुंबई पुलिस के निलंबित अधिकारी सचिन वाजे को सात अप्रैल तक NIA (राष्ट्रीय जांच एजेंसी) की कस्टडी में भेजा गया है. सचिन वाजे के भाई सुधारम वाजे ने इस पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कहा है कि उन्हें न्यायिक प्रक्रिया और NIA में पूरा विश्वास है. बता दें कि सचिन वाजे एंटीलिया केस और मनसुख हिरेन हत्या मामले में मुख्य आरोपी है. 

NIA ने सचिन वाजे के खिलाफ अनलॉफुल एक्टिविटीज (प्रीवेन्शन) एक्ट यानी UAPA की कई धाराएं भी लगाई हैं. NIA ने कहा कि हमलोग ऐसे ही UAPA के तहत मामले की जांच नहीं कर रहे हैं, बल्कि इसके तार भी जुड़े हैं. वाजे का एक ज्वाइंट अकाउंट है. उसमें जो कुछ मिला है, हमें उसका प्रयोजन और कनेक्शन पता करना है. कार के अंदर एक कागज भी मिला था. हमें उसका कनेक्शन भी मालूम करना है. कौन-कौन साजिशकर्ता है, किसे पेमेंट दिया गया और किसे नहीं, ये सारे मामले UAPA से जुड़े हैं. षडयंत्र हमेशा चुपचाप रचा जाता है. सचिन वाजे की गिरफ्तारी के बाद भी लॉकर ऑपरेट किया जा रहा है. इसका मतलब कुछ है.

वहीं सचिन वाजे की तरफ से पोंडा ने कहा कि मुझे बैंक अकाउंट, ओपनिंग फॉर्म, फोटो और सिगनेचर दिखलाइए. मेरी जानकारी में उनका ऐसा कोई अकाउंट नहीं है. लेकिन  अगर NIA आरोप लगा रही है तो उन्हें पेपर दिखाना होगा.

हालांकि NIA ने डिफेंस को किसी तरह के पेपर दिखाने से मना कर दिया. उन्होंने कहा कि कागजात में कुछ अन्य जरूरी मैटिरियल है. इसलिए उन्हें यह नहीं दिखाया जा सकता. हालांकि उन्होंने स्पेशल जज को यह कागजात दिखा दिए हैं. 

इससे पहले सचिन वाजे के वकील ने कोर्ट में आवेदन दिया था कि उन्हें सीने में दर्द और हार्ट ब्लॉकेज की समस्या रहती है. इसके बाद NIA कोर्ट ने वाजे की मेडिकल रिपोर्ट मांगी थी. 

NIA ने 13 मार्च को उसे गिरफ्तार किया था. शनिवार को ही उसकी कस्टडी खत्म हो रही थी. सचिन वाजे के वकील रौनक नाईक ने अदालत को एक एप्लीकेशन लिखी. इसमें उन्होंने कहा कि सचिन वाजे को सीने में दर्द के साथ-साथ हार्ट में 90% के दो ब्लॉकेज भी हैं. इसलिए वाजे को उनके कार्डियोलॉजिस्ट से मिलवाया जाए, ताकि उनका मेडिकल ट्रीटमेंट कोर्स शुरू हो सके. इसके बाद कोर्ट ने वाजे की मेडिकल रिपोर्ट मांगी थी. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें