scorecardresearch
 
पुलिस एंड इंटेलिजेंस

यूपी: रिश्तेदार की वर्दी, कंधे पर डबल स्टार, पत्नी ने ऐसे खोली फर्जी दारोगा की पोल

Fake Police Inspector
  • 1/8

यूपी के रामपुर जिले में एक फर्जी दारोगा का पता चला है. दारोगा बना शख्स वर्दी पहनकर लोगों पर रौब झाड़ता और पत्नी से भी मारपीट करता. उसकी आदतों से परेशान होकर पत्नी ने उसकी पोल खोल दी. आइए जानते हैं क्या है पूरा मामला... 

Fake Police Inspector
  • 2/8

रामपुर के टांडा थाना क्षेत्र का रहने वाले वीर सिंह का एक रिश्तेदार गैर जनपद में पुलिस की नौकरी करता है. घर में टंगी डबल स्टार लगी इस वर्दी को देखकर उसके मन में भी दारोगा बनने की चाहत दौड़ने लगी. हालांकि, उसने इसके लिए गलत रास्ता चुना. 

Fake Police Inspector
  • 3/8

वीर सिंह ने बिना कुछ किए पुलिस की वर्दी पहन ली. इतना ही नहीं उसने इस पर डबल स्टार भी लगा लिए. लोगों को लगा कि वो भी दारोगा बन गया है. लेकिन इस फर्जी दारोगा की पोल जल्द ही खुल गई. 

Fake Police Inspector
  • 4/8

वर्दी पहनने के बाद वो जहां पत्नी अनुपम भारती के साथ मारपीट किया करने लगा, तो वहीं गांव के अन्य लोगों सहित आसपास के इलाके में रहने वालों पर अपनी वर्दी का धौंस जमाने लगा. 

Fake Police Inspector
  • 5/8

उसकी इन हरकतों से परेशान होकर पत्नी ने सारे मामले की शिकायत पुलिस से कर दी. फर्जी दारोगा होने की जानकारी सामने आने पर पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया और आरोपी को पकड़ने के लिए तैयारी शुरू कर दी गई. 

Fake Police Inspector
  • 6/8

मामले पर फर्जी दारोगा की पत्नी अनुपम ने बताया साल 2014 में दोनों की शादी हुई थी. शुरू में सब कुछ सही चला, लेकिन शादी के एक साल बाद पति ने मुझे टॉर्चर करना चालू कर दिया. मेरे पति के घर वाले सास और ननद, देवर सभी ने मुझे टॉर्चर किया. 

Fake Police Inspector
  • 7/8

महिला ने आरोप लगाया कि दारोगा बने पति वर्दी पहनकर निकलते और रास्ते में लोगों को डांटते फटकारते. उनके दूसरी लड़की से भी संबंध हैं. कई बार उसे बाइक पर बैठाकर घुमाते भी हैं. 

Fake Police Inspector
  • 8/8

वहीं इस मामले में पुलिस अधीक्षक अंकित मित्तल ने बताया थाना टांडा में एक महिला ने सूचना दी उसके पति पुलिस की वर्दी पहनकर घूमते हैं और लोगों पर रौब झाड़ते हैं. महिला की तहरीर के आधार पर पति के खिलाफ मुकदमा पंजीकृत किया गया है. उन्होंने बताया कि जांच करने पर पता चला है कि उस व्यक्ति के कोई परिचित पुलिस विभाग में है, जिसकी वर्दी उसने पहनी थी. क्योंकि ये अपराध है इस संबंध में उक्त व्यक्ति के विरुद्ध भी संबंधित थाने को कार्रवाई के लिए लिखा गया है.