scorecardresearch
 

Drugs Case में Aryan Khan को फंसाने की रची गई साजिश? HC की टिप्पणी से घेरे में NCB

Drugs Case में Aryan Khan को फंसाने की रची गई साजिश? HC की टिप्पणी से घेरे में NCB

NCB Director या एनसीपी नेता के बीच ड्रग्स के झोल से शुरु हुआ ये सियासत का खेल अब इस मोड़ पर है कि इसका अंजाम तक पहुचना तय है. इस तरफ या उस तरफ, लेकिन जिस तरह से Nawab Malik, Sameer Wankhede की पोल खोलने वाले एक के बाद एक दस्तावेज़ पेश करते जा रहे हैं उससे लगता है कि ये अंजाम नहीं, आगाज़ है. एक अलग ही किस्म के फर्ज़ीवाड़े का आगाज़. एक के बाद एक एनसीपी नेता और महाराष्ट्र सरकार में मंत्री नवाब मलिक इतने इल्ज़ाम समीर वानखेड़े पर जड़ते जा रहे हैं कि जो समीर वानखेड़े अभी तक बॉलीवुड को अपने शिकंजे में ले रहे थे, वो अब खुद ही इस शिकंजे में जकड़ते जा रहे हैं. ड्रग्स केस में आर्यन को मिली क्लीन चिट और बॉम्बे हाईकोर्ट के बेल ऑर्डर ने पासा बिलकुल पलट दिया है, तो बकौल बॉम्बे हाईकोर्ट अगर आर्यन बेगुनाह थे और इस मामले में उनकी गिरफ्तारी बनती ही नहीं थी तो अब इसका हर्जाना कौन भरेगा?

In it’s 14-page bail order, the Bombay High Court held that there was ‘no positive evidence’ against Bollywood actor Shah Rukh Khan’s son Aryan to book him for conspiracy under the Narcotic Drugs and Psychotropic Substances Act. After this Bail order, questions are arising against NCB and Sameer Wankhede. Watch.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें