scorecardresearch
 

MP: प्रेमी के साथ मिलकर की पति की हत्या, फिर खुद ही लिखवाई रिपोर्ट, लेकिन ऐसे खुल गई महिला की पोल

ग्वालियर में एक महिला ने बॉयफ्रेंड के साथ मिलकर अपने ही पति की हत्या कर दी. हत्या करने के बाद पति की लाश को दफना भी दिया और उसके ऊपर पेड़ लगा दिया. किसी को शक ना हो, इसलिए महिला ने खुद ही पुलिस में पति की गुमशुदगी की रिपोर्ट भी लिखवा दी.

सालभर पहले कर दी थी पति की हत्या. (प्रतीकात्मक तस्वीर) सालभर पहले कर दी थी पति की हत्या. (प्रतीकात्मक तस्वीर)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • अगस्त 2020 में कर दी थी पति की हत्या
  • शक ना हो इसलिए महिला ने लिखवाई रिपोर्ट
  • हत्या के बाद लाश को जमीन में गाड़ दिया

मध्यप्रदेश के ग्वालियर में पुलिस ने करीब एक साल पुराने ऐसे कत्ल का खुलासा किया जिसमें कातिल और कोई नहीं बल्कि मृतक की पत्नी ही निकली जिसने अपने बॉयफ्रेंड के साथ मिलकर पति की हत्या कर दी थी. किसी को शक ना हो इसके लिए शातिर पत्नी ने खुद पति की गुमशुदगी की रिपोर्ट भी लिखवाई और कोर्ट में याचिका भी लगाई थी लेकिन टेक्निकल एविडेंस (तकनीकी साक्ष्यों) के सामने पत्नी का झूठ चल नहीं पाया. 

ऐसे पकड़ी गई महिला

ग्वालियर पुलिस ने मंगलवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर इस पूरे मामले का खुलासा किया. दरअसल, पुलिस के पास 15 अगस्त 2020 को एक महिला अपने पति फेरन जाटव की गुमशुदगी की रिपोर्ट लिखवाने आई थी. पुलिस गुमशुदा की तलाश कर ही रही थी कि इसी बीच महिला ने कोर्ट में बंदी प्रत्यक्षीकरण याचिका भी लगा दी. मामला कोर्ट में जाने के बाद पुलिस ने मामले को और गंभीरता से लेकर तफ्तीश शुरू कर दी. 

तफ्तीश के दौरान पुलिस को जानकारी मिली कि महिला की एक शख्स से बातचीत होती रहती है. इसपर पुलिस ने दोनों पर नज़र रखनी शुरू की. तफ्तीश के दौरान भी महिला ने पुलिस पर लापता पति की तलाश ठीक से ना करने का आरोप लगाते हुए कोर्ट में याचिका लगाई जिससे किसी को शक ना हो लेकिन पुलिस ने जब महिला और उसके बॉयफ्रेंड की फोन कॉल डिटेल निकाली तो पता चला कि दोनों के बीच लंबी बातचीत होती है. 

ये भी पढ़ें-- गुजरातः पति-पत्नी, 5 शादियां और एक मर्डर मिस्ट्री, 48 दिनों बाद ऐसे हुआ खुलासा

पूछताछ में उगला सच

पूरे 11 महीने बाद 26 जुलाई को पुलिस ने पत्नी और उसके पुरुष मित्र को थाने बुलाया और सभी टेक्निकल एविडेंस (तकनीकी साक्ष्य) दिखाकर पूछताछ की तो दोनों टूट गए. पत्नी और उसके बॉयफ्रेंड ने बताया कि दोनों ने एक और शख्स के साथ मिलकर 6 अगस्त 2020 को ही फेरन जाटव के सिर पर लोहे के पाइप और पत्थर से सिर पर वार कर हत्या कर दी थी. 

किसी को पता ना चले इसके लिए हस्तिनापुर क्षेत्र के चपरोली मौजा में बने एक कुएं में शव को फेंक कर उसके ऊपर पेड़ उगा दिया था. आरोपियों की निशानदेही पर शव को बरामद कर लिया गया है. फिलहाल आरोपी पत्नी और उसके बॉयफ्रेंड को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है जबकि तीसरा आरोपी फिलहाल फरार है. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें