scorecardresearch
 

राजस्थान में हो रही शादी में अचानक पहुंची UP पुलिस, दूल्हे की दादी को लगी गोली

दूल्हे के साथ उसकी दादी, बहन, मां और फूफा सहित करीब दस रिश्तेदार चल रहे थे. इसी दौरान एक गाड़ी वहां आकर रुकी, गाड़ी में से आधा दर्जन से अधिक पुलिस वाले उतरे और अचानक हवाई फायरिंग शुरू कर दी.

बारातियों ने समझा कि कपड़े बदलकर लुटेरे आ गए बारातियों ने समझा कि कपड़े बदलकर लुटेरे आ गए
स्टोरी हाइलाइट्स
  • कान के पास लगी गोली, गंभीर रूप से घायल
  • यूपी पुलिस बिना किसी सूचना के धौलपुर पहुंची
  • अभी तक आपराधिक प्रकरण दर्ज नहीं

राजस्थान के धौलपुर जिले में शुक्रवार की रात एक शादी में यूपी पुलिस अचानक पहुंच गई जिसके बाद आम लोग और पुलिस में झड़प हो गई. उत्तर प्रदेश पुलिस का दावा है कि बचाव में हवाई फायरिंग की गई थी. इस दौरान दूल्हे की दादी को गोली लग गई. यूपी पुलिस का यह भी कहना है कि गौ तस्करी के एक मामले में कार्रवाई करने के लिए टीम धौलपुर गई थी.

दरअसल, यह मामला धौलपुर के कंचनपुर थाना इलाके के कछपुरा गांव का है. कछपुरा गांव के रहने वाले रामेश्वर के पुत्र नीरज की शादी थी और बारात निकल रही थी. उसी समय दूल्हे के साथ उसकी दादी, बहन, मां और फूफा सहित करीब 10 रिश्तेदार चल रहे थे. इसी दौरान एक गाड़ी वहां आकर रुकी, गाड़ी में से आधा दर्जन से अधिक पुलिस वाले उतरे और अचानक हवाई फायरिंग शुरू कर दी. 

बारातियों ने समझा लुटेरे आ गए

बारातियों और गांव वालों ने समझा कि कपड़े बदलकर लुटेरे आ गए हैं. लूट की आशंका में रामेश्वर ने गहनों से भरा बैग दूल्हे की दादी महादेवी की ओर उछाल दिया, वह उसे लपकने ही वाली थीं कि एक गोली उसके कान के पास आ लगी और महादेवी पत्नी विक्रम सिंह गंभीर रूप से घायल हो गईं. 

इस दौरान गाड़ी से पहुंचे लोगों ने दूल्हे के पिता रामेश्वर कुशवाहा, फूफा और दूल्हे के बहनोई को गाड़ी में बिठाया और वहां से चल दिए. यहां तक ग्रामीणों को कुछ समझ नहीं आया. सूचना मिलने पर एसपी केसर सिंह शेखावत, पुलिस उप अधीक्षक विजय कुमार सिंह और कंचनपुर थाना प्रभारी देवेंद्र कुमार शर्मा पुलिस बल के साथ घटनास्थल पर पहुंचे.

सूत्रों के मुताबिक आगरा क्षेत्र के एत्मादोला थाने में गौ तस्करी से संबंधित मामला दर्ज किया गया था, उसी मामले में वांछित गौ-तस्करों को पकड़ने के लिए उत्तर प्रदेश की पुलिस बिना धौलपुर पुलिस को सूचना दिए उक्त कार्रवाई के लिए पहुंच गई.

नहीं पहुंच सकी बारात 

उत्तर प्रदेश पुलिस का दावा है कि उन्हें कछपुरा में गौ-तस्करों के छिपे होने की सूचना मिली थी, इसलिए पुलिस वहां दबिश देने गई थी. जब वे बदमाशों को पकड़ने के लिए दबिश दे रहे थे, तभी वहां से दूल्हे की निकासी हो रही थी. हथियार बंद पुलिसकर्मियों को देख लोगों ने शोर मचाना शुरू कर दिया. 

वहीं मामले को लेकर घायल महिला के परिजनों का आरोप है कि पुलिस की वर्दी में लुटेरे आए थे, जिन्होंने निकासी के दौरान गोली चलाई और दूल्हे के पिता, जीजा और फूफा का अपहरण करके ले गए. दूल्हे नीरज की बारात जिले के मनियां कस्बे में जा रही थी. लेकिन वारदात के बाद बारात भी नहीं जा सकी.

इस मामले में धौलपुर के पुलिस अधीक्षक केसर सिंह शेखावत ने बताया कि कछपुरा गांव में पुलिस की वर्दी में कुछ लोग पहुंचे थे. इस दौरान उन्होंने धरपकड़ की कोशिश की और ग्रामीणों से कहासुनी हुई. ग्रामीणों का आरोप है कि उन्होंने फायरिंग कर दी जिसमे एक महिला घायल हो गई. इस संबंध में अभी तक आपराधिक प्रकरण दर्ज नहीं हुआ हैं. मामले की जांच की जा रही है.

ये भी पढ़ें- 

 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें