scorecardresearch
 

इटावाः सरेंडर से पहले सपा नेता धर्मेंद्र यादव गिरफ्तार, कोरोना काल में जुलूस निकालने का है केस

सपा नेता धर्मेंद्र यादव को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. धर्मेंद्र यादव अदालत में सरेंडर करने जा रहे थे, लेकिन रास्ते में ही उन्हें पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया. हाल ही में जेल से छूटने के बाद धर्मेंद्र यादव ने जुलूस निकाला था और इसी मामले में उन्हें गिरफ्तार किया गया है.

सपा नेता धर्मेंद्र यादव (फाइल फोटो) सपा नेता धर्मेंद्र यादव (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • जेल से छूटने के बाद जुलूस निकालने का आरोप
  • पुलिस ने 25,000 का इनाम घोषित किया था
  • सरेंडर करने से पहले ही पुलिस ने किया गिरफ्तार

यूपी के इटावा जिले में कोर्ट में सरेंडर करने जा रहे सपा नेता धर्मेंद्र यादव को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया. एसएसपी डॉ. बृजेश सिंह ने बताया कि धर्मेंद्र यादव को उस वक्त गिरफ्तार किया गया जब वो कोर्ट के गेट नंबर-3 से सरेंडर करने जा रहे थे. कई दिनों से धर्मेंद्र की तलाश की जा रही थी. पुलिस ने उन पर 25 हजार रुपए का इनाम भी रखा था. 

धर्मेंद्र यादव समाजवादी पार्टी की युवजन सभा के नेता हैं. औरैया के निवासी धर्मेंद्र यादव ने हाल ही में दिबियापुर से जिला पंचायत सदस्य का चुनाव जीता है. वो इटावा जेल में बंद थे. 4 जून को ही उन्हें रिहा किया गया था. लेकिन अगले ही दिन 5 जून को उन्होंने काफिले के साथ जुलूस निकाला था, जिसका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था. कोरोना के दौर में ऐसा जुलूस निकालने पर पाबंदी है. 

एसएसपी डॉ. बृजेश सिंह के मुताबिक, इस मामले में थाना सिविल लाइन में 188, 269 और 270 के तहत केस दर्ज किया गया था. धर्मेंद्र यादव के साथ-साथ 200 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज हुआ था. उन्होंने बताया कि इस मामले में काफिले में शामिल 24 गाड़ियों को अब तक जब्त किया जा चुका है, जबकि 34 लोग गिरफ्तार हो चुके हैं.

(रिपोर्टः अमित तिवारी)

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें