scorecardresearch
 

AP: पैरेंट्स ने नहीं दिलाया 30 हजार का कुत्ता, 16 साल के लड़के ने जान दे दी

आंध्र प्रदेश के विशाखापट्टनम से एक दर्दनाक घटना सामने आई है. जहां पर एक नाबालिग लड़के ने सिर्फ इसलिए खुदकुशी कर ली कि उसे माता-पिता ने घर में पालने के लिए कुत्ता लाने से मना कर दिया था.

16 साल के लड़के ने फांसी लगाकर दी जान 16 साल के लड़के ने फांसी लगाकर दी जान
स्टोरी हाइलाइट्स
  • माता-पिता ने कुत्ता दिलाने से किया था मना
  • मां जब बाजार गई तो लड़के ने कर ली खुदकुशी
  • मामले पर केस दर्ज, जांच की जा रहीः पुलिस

एक नाबालिग लड़के ने सिर्फ इसलिए खुदकुशी कर ली कि उसे माता-पिता ने घर में पालने के लिए कुत्ता लाने से मना कर दिया था. ये दुखद घटना आंध्र प्रदेश के तटवर्ती शहर विशाखापट्टनम में सोमवार को हुई. शहर के वेंकटेश्वरा मेट्टा इलाके में 16 साल के लड़के षणमुख वामसी ने सीलिंग फैन से लटक कर जान दे दी.

दरअसल, ये लड़का 30,000 रुपये में कुत्ता खरीद कर घर में लाना चाहता था लेकिन माता-पिता ने ऐसा करने की इजाजत नहीं दी थी. षणमुख वामसी ने ये कुत्ता ऑनलाइन बिक्री वेबसाइट पर देखा था. 
 
प्राइवेट कालेज के छात्र षणमुख वामसी की मां कुत्ता घर में नहीं आने देना चाहती थी. वामसी से कहा गया कि कुछ वक्त ठहर जाओ फिर कुत्ता खरीद लेंगे. हालांकि घरवालों के ऐसा कहने पर षणमुख वामसी निराश हो गया था.

इसे भी क्लिक करें --- गुजरात: आणंद में ट्रक से टकराई कार, हादसे में एक परिवार के 10 लोगों की मौत

मां सोमवार को जरूरी घरेलू सामान खरीदने बाजार गई तो उस वक्त घर पर कोई नहीं था. कुत्ते को घर में ना ला पाने की वजह से हताश षणमुख वामसी ने खुद को फांसी लगा ली. मां ने घर आकर जब ये देखा तो उसे गश आ गया.

षणमुख वामसी को तत्काल अस्पताल पहुंचाया गया लेकिन तब तक बहुत देर हो चुकी थी. डॉक्टरों ने षणमुख को मृत घोषित कर दिया.

एमआर पेट्टा थाने की पुलिस ने इस मामले में केस दर्ज किया है और आगे जांच की जा रही है. पुलिस के मुताबिक आपराधिक दंड संहिता (CrPC)  की धारा 174 के तहत केस दर्ज किया गया है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें