scorecardresearch
 

सिंघु बॉर्डर: किसान आंदोलन के मंच के पास युवक की हत्या, अब तक मामले में हुए ये खुलासे

इस शख्स की उम्र 35-36 साल बताई जा रही है. वह पंजाब के तरन तारन जिले के चीमा खुर्द का रहने वाला था. मृतक की पहचान लखबीर सिंह के तौर पर हुई है. बताया जा रहा है कि शव का हाथ काटकर बैरिकेड से लटका दिया गया था. शव मिलने के बाद सिंघु बॉर्डर पर हंगामा शुरू हो गया है. 

X
सिंघु बॉर्डर पर एक शख्स की हत्या हुई है (सांकेतिक तस्वीर). सिंघु बॉर्डर पर एक शख्स की हत्या हुई है (सांकेतिक तस्वीर).
स्टोरी हाइलाइट्स
  • तरन तारन जिले के चीमा खुर्द का रहने वाला था लखबीर
  • शव मिलने के बाद सिंघु बॉर्डर पर हंगामा शुरू
  • निहंगों पर लगा हत्या का आरोप

सिंघु बार्डर पर आंदोलनकारियों के मंच के पास एक युवक का शव मिलने से सनसनी फैल गई है. बताया जा रहा है कि शव का हाथ काटकर बैरिकेड से लटका दिया गया था. शव मिलने के बाद सिंघु बॉर्डर पर हंगामा शुरू हो गया है. किसान आंदोलनकारियों के मंच के पास युवक की बर्बर तरीके से हत्या के मामले में कई खुलासे हुए हैं. मृतक की पहचान लखीबर सिंह के तौर पर हुई है.

मृतक की पहचान का हुआ खुलासा

पुलिस सूत्रों के मुताबिक मृतक की पहचान लखबीर सिंह, पुत्र हरनाम सिंह  के तौर पर हुई है. हरनाम सिंह ने लखबीर को गोद लिया था जब वह 6 महीने का था. हरनाम सिंह लखबीर के फूफा हैं. जबकि लखबीर के असल पिता का नाम दर्शन सिंह था. लखबीर की उम्र 35-36 साल बताई जा रही है. वह तरन तारन जिले के चीमा खुर्द का रहने वाला था.

लखबीर सिंह के माता पिता पहले ही मर चुके हैं. उसकी एक बहन है राज कौर. लखबीर की पत्नी जसप्रीत कौर उसके साथ नहीं रहती थी. जसप्रीत के साथ ही तीनों बेटियां भी रहती थीं. तीनों बेटियों में कुलदीप कौर 8 साल, सोनिया 10 साल और तानिया 12 साल की है. पुलिस के मुताबिक लखबीर का कोई आपराधिक इतिहास नहीं है, ना ही किसी राजनीतिक दल से वह जुड़ा हुआ है.

निहंगों पर लगा हत्या का आरोप

सिंघु बॉर्डर पर शख्स की हत्या करने का आरोप निहंग सिखों पर लगा है. संयुक्त किसान मोर्चा ने भी उनपर ही आरोप लगाए हैं. इसपर किसान मोर्चा के नेता बलबीर सिंह राजेवाल का बयान भी आया है. बलबीर सिंह राजेवाल  ने कहा कि 'इस घटना के पीछे निहंग हैं. उन्होंने इस बात को मान भी लिया है. निहंग सिख शुरुआत से हमारे लिए समस्या खड़ी कर रहे हैं.'

संयुक्त किसान मोर्च का बयान

इस मामले पर संयुक्त किसान मोर्चा की तरफ से बयान जारी कर कहा गया कि तरन तारन के रहने वाले एक शख्स की बर्बरता से हत्या का मामला सामने आया है. निहंग ग्रुप ने इस हत्या की जिम्मेदारी ली है. निहंगों का कहना है कि शख्स ने सरबलोह ग्रंथ के संबंध में बेअदबी करने का प्रयास किया था. बताया जा रहा है कि लखबीर कुछ समय से निहंगों के उसी समूह के साथ कुछ समय से रह रहा था.

पुलिस ने क्या कहा?

पुलिस के मुताबिक अज्ञात लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर ली गई है. डीसीपी हंसराज ने कहा, 'कुंडली, सोनीपत बॉर्डर पर जहां किसानों का प्रदर्शन चल रहा है. वहां सुबह पांच बजे एक शव लटका मिला. उसके हाथ और टांग कटी हुई थी. हत्या किसने की यह फिलहाल साफ नहीं है. अज्ञात लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर ली गई है. एक वीडियो भी वायरल है, जिसकी जांच हो रही है.'

हरियाणा पुलिस का कहना है कि दिनांक 15-10-2021 को कोंडली थाने के ASI के मुताबिक सुबह 5 बजे एक सूचना प्राप्त हुई कि किसान आंदोलन में निहंगों ने एक आदमी का हाथ काट दिया और उसको लोहे के एक बैरिकेट पर रस्सी से बांध कर लटका रखा है. जिसकी सूचना पर ASI, हेड कॉन्स्टेबल प्रदीप और कांस्टेबल मौके पर पहुंचे. वहां आस पास काफी संख्या में निहंग एकत्रित थे जिनसे ASI ने पूछताछ करने की कोशिश की तो किसी ने पूछताछ में सहयोग नहीं किया और न मृतक की लाश को उतारने दी. इस मामले में अज्ञात लोगों के खिलाफ IPC की धारा 302/34 के तहत मामला दर्ज किया गया है और FSL टीम को सूचना दी गई है.
 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें