scorecardresearch
 

राजस्थान: मूकबधिर नाबालिग बच्ची से रेप, हैवानियत की सारी हदें पार

अलवर जिले में एक बार फिर से हैरान कर देने वाली वारदात सामने आई है. यहां मूकबधिर नाबालिग बच्ची के साथ रेप की हैवानियत भरी वारदात हुई. आरोपी बच्ची को रात में एक पुलिया पर फेंक कर फरार हो गए. बताया जा रहा है कि बच्ची के प्राइवेट पार्ट्स में गंभीर चोट आई है.

X
(प्रतीकात्मक फोटो) (प्रतीकात्मक फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • आरोपियों ने बच्ची को रेप के बाद बेहोशी की हालत में रास्ते में फेंका
  • बच्ची के प्राइवेट पार्ट में आई गंभीर चोट
  • आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए बनी पांच टीमें

राजस्थान के अलवर में नाबालिग बच्ची के साथ दुष्कर्म की हैरान कर देने वाली घटना हुई है.आरोपियों ने मानसिक रूप से कमजोर बच्ची उठाया और उसके साथ रेप की घटना को अंजाम दिया. बच्ची को आरोपी बेहोशी की हालत में पुलिया पर फेककर फरार हो गए. स्थानीय लोगों की मदद से पीड़ित बच्ची को गंभीर हालत में अस्पताल में पहुंचाया गया. बताया जा रहा है कि बच्ची के प्राइवेट पार्ट से खून बह रहा था उसकी हालत गंभीर थी.पीड़िता अस्पताल में जिंदगी और मौत से संघर्ष कर रही है. पुलिस इस मामले की जांच में जुटी और जल्द ही आरोपियों को पकड़ने का दावा कर रही है. 

 बड़े अधिकारी पहुंचे मौके पर: 

जिला कलेक्टर नन्नू मल पहाड़िया और अलवर एसपी तेजस्विनी गौतम सहित कई बड़े अधिकारी बच्ची का हाल जानने के लिए अस्पताल पहुंचे. बच्ची की गंभीर हालत को देखते हुए डॉक्टरों ने जयपुर रेफर कर दिया है. बताया जा रहा है कि बच्ची के प्राइवेट पार्ट पर किसी नुकीली चीज से चोट किया गया. जिससे घाव हो गया और काफी खून बह गया.

 प्राइवेट पार्ट पर कई जख्म :   

बच्ची की पहचान हो गई है वो सिर्फ मम्मी और पापा ही बोल पाती है. पुलिस ने आरोपियों को पकड़ने के लिए टीमें रवाना कर दी हैं. अलवर पुलिस अधीक्षक तेजस्विनी गौतम ने बताया कि 5 टीमें लगाई गई हैं और थाने में पीड़िता के चाचा की तरफ से मुकदमा दर्ज कराया गया है. बच्ची के परिजन भी जयपुर पहुंच गए हैं.  पुलिस की प्रारंभिक जांच में सामने आया है कि बच्ची के साथ हैवानियत की हदें पार की गई हैं. पुलिस ने रात को आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है. हालांकि अभी तक उनका कोई सुराग नहीं लग पाया है. 

आरोपियों की तलाश में जुटी पुलिस: 

बच्ची के परिजनों का कहना है कि वह शाम 5 बजे के आसपास लापता हो गई थी. बच्ची के आसपास कई जगह तलाशा गया था. इस घटना ने दिल्ली के निर्भया कांड की याद दिला दी हैं. जिसके बाद देश में नाबालिग बच्चियों के साथ रेप पर कठोर कानून भी बनाया गया. बावजूद इसके बच्चियों के खिलाफ रेप के मामले कम नहीं हुए अलवर में नाबालिग मानसिक रूप से कमजोर बच्ची के साथ हैवानियत की सारी हदें पार कर दी गईं. 

ये भी पढ़ें


 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें