scorecardresearch
 

पटनाः थाने में हैं गिरफ्तार शराब माफिया, महिलाएं करने लगीं हंगामा, पुलिस ने भांजी लाठी

घटना के बाद गर्दनीबाग थाने पर अतिरिक्त पुलिस बल तैनात कर दिया गया है. पटना के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने मौके पर पहुंचकर घटना के संबंध में मातहतों से जानकारी ली.

थाने पर बढ़ाई गई सुरक्षाकर्मियों की तैनाती (फाइल फोटो) थाने पर बढ़ाई गई सुरक्षाकर्मियों की तैनाती (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • गर्दनीबाग थाने पर हंगामा कर रही थीं महिलाएं
  • पुलिस पर हमले के आरोप में 4 माफिया गिरफ्तार
  • लाठीचार्ज पर बोलने से बच रहे अधिकारी, बढ़ी सुरक्षा  

बिहार की राजधानी पटना में शराब माफिया के ठिकाने पर छापेमारी करने पहुंची पुलिस पर फायरिंग की घटना हुई थी. इस घटना का वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस ने चार आरोपियों की शिनाख्त कर उनकी धरपकड़ की. गिरफ्तार आरोपियों को गर्दनीबाग थाने पर रखा गया था. आरोपियों को गर्दनीबाग थाने पर रखे जाने की जानकारी पाकर सैकड़ों की तादाद में महिलाएं पहुंच गईं और हंगामा करने लगीं.

हंगामा कर रही महिलाओं को पुलिस ने पहले तो समझाने का प्रयास किया, लेकिन फिर भी जब वो नहीं मानीं तो पुलिस ने उन्हें अपने पुलिसिया अंदाज में समझाया. पुलिस ने महिलाओं को भी नहीं बख्शा. पुलिस ने महिलाओं को तितर-बितर करने के लिए लाठी भांजी. इस घटना में कई महिलाएं घायल हुई हैं. घटना के बाद गर्दनीबाग थाने पर सुरक्षा बढ़ा दी गई है.

थाने पर अतिरिक्त पुलिस बल तैनात कर दिया गया है. पटना के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने मौके पर पहुंचकर घटना के संबंध में मातहतों से जानकारी ली और सुरक्षा व्यवस्था चुस्त-दुरूस्त करने के लिए जरूरी निर्देश दिए. महिलाओं पर लाठीचार्ज किए जाने को लेकर सवाल भी उठ रहे हैं. हालांकि, पुलिस विभाग के अधिकारी इसे लेकर कुछ भी बोलने से बच रहे हैं.

बता दें कि 5 सितंबर की सुबह जक्कनपुर थाने की पुलिस गुप्त सूचना के आधार पर मीठापुर और आर ब्लॉक के पास शराब माफिया के झुग्गी झोपड़ी में स्थित ठिकाने पर छापेमारी करने पहुंची थी. शराब माफियाओं ने एक पुलिसकर्मी को पहले पैर में गोली मारी, फिर घायल पुलिसकर्मी की जमकर पिटाई कर दी. किसी ने इस घटना का वीडियो बना लिया था.

यह वीडियो वायरल हो गया. वीडियो वायरल होने के बाद एक्शन में आई पुलिस ने चार आरोपियों की शिनाख्त कर उन्हें गिरफ्तार कर लिया. गिरफ्तार किए गए आरोपियों को एहतियातन गर्दनीबाग थाने पर रखा गया था. इसकी भनक गिरफ्तार आरोपियों के परिजनों को लग गई. आरोपियों के घर की महिलाएं सैकड़ों की तादाद में महिलाओं के साथ थाने पहुंच गईं और हंगामा करने लगीं.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें