scorecardresearch
 

यूपीः अतीक अहमद के 11 बैंक खाते सीज, अब गुर्गों के अकाउंट पर नजर

उत्तर प्रदेश सरकार की भूमाफियाओं पर कार्रवाई जारी है. माफिया डॉन अतीक अहमद के 11 बैंक खाते पुलिस ने सीज कर दिए हैं. अब उसके सहयोगियों और गुर्गों के बैंक खातों पर पुलिस की नजर है. जांच कर रही पुलिस टीम ने अतीक अहमद के साथ काम करने वाले कई सक्रिय सदस्यों के बैंक खातों की जानकारी जुटाई है.

X
माफिया डॉन अतीक अहमद (फाइल फोटो)
माफिया डॉन अतीक अहमद (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • अतीक अहमद के 11 बैंक खाते सीज
  • गुर्गों के बैंक खातों पर पुलिस की नजर
  • विजय मिश्रा के बेटे के खिलाफ लुकआउट नोटिस

उत्तर प्रदेश सरकार की भूमाफियाओं पर कार्रवाई जारी है. माफिया डॉन अतीक अहमद के 11 बैंक खाते पुलिस ने सीज कर दिए हैं. अब उसके सहयोगियों और गुर्गों के बैंक खातों पर पुलिस की नजर है. जांच कर रही पुलिस टीम ने अतीक अहमद के साथ काम करने वाले कई सक्रिय सदस्यों के बैंक खातों की जानकारी जुटाई है. पता किया गया है कि आखिरकार इन बैंकों में आने वाले पैसों का स्रोत क्या है?

जानकारी के मुताबिक, अतीक अहमद के इन जानकारों के बैंक खातों के खिलाफ भी कार्रवाई की जाएगी. अब तक अतीक अहमद के खुद के 11 बैंक खाते प्रयागराज के जिला अधिकारी की अनुमति के बाद पुलिस ने सीज किए हैं. इनमें से 7 प्रयागराज, 2 बलरामपुर, 1 खाता दिल्ली और एक खाता लखनऊ के बैंक में है. अतीक अहमद के जिन करीबियों के खिलाफ प्रशासन बैंक खातों को सील करने की कार्रवाई करने जा रहा है, उनमें से ज्यादातर ऐसे हैं जिन पर गैंगस्टर एक्ट लगा हुआ है.

अधिकारियों का यह भी कहना है कि अपराध के जरिये जमा की गई संपत्ति को कुर्क करने की तैयारी की जा रही है. इसके लिए संबंधित अधिकारियों के पास प्रशासन की रिपोर्ट भी भेजी जाएगी.

इस बीच, मुख्तार अंसारी पर और शिकंजा कसते हुए करीबी मुन्ना सिंह हत्याकांड में आरोपी रहे माफिया उमेश सिंह का करीब 300 टन कोयला जब्त किया गया है. मऊ के जिलाधिकारी के आदेश पर पुलिस ने उमेश सिंह के कोल डिपो को सीज कर लिया था, और करीब 25 लाख रुपये की कीमत का 300 टन कोयला जब्त किया है. 

देखें: आजतक LIVE TV

शराब माफिया पर एक्शन

यूपी में दूसरे जिलों में कार्रवाई को आगे बढ़ाते हुए पुलिस ने फतेहपुर में माफिया अमरजीत सिंह की 45 लाख की संपत्ति कुर्क कर दी. जांच में यह कमाई अवैध पाई गई थी. दरअसल, अमरजीत का उस इलाके में नकली शराब बनाने का बड़ा धंधा चलाता है. उसके दो भाई पहले से ही शराब माफिया घोषित हैं. अमरजीत सिंह के खिलाफ भी साल 2016 में गैंगस्टर का मामला दर्ज हुआ था. जांच के बाद यह कार्रवाई की गई है.

विजय मिश्रा के बेटे के खिलाफ लुकआउट नोटिस

उत्तर प्रदेश में माफियाओं के खिलाफ चल रहे इस अभियान में विधायक विजय मिश्रा के बेटे के खिलाफ भी लुक आउट नोटिस जारी किया गया है. भदोही में रिश्तेदार से संपत्ति विवाद में जेल में बंद बाहुबली विधायक विजय मिश्रा के बेटे विष्णु मिश्रा के ख़िलाफ़ लुकआउट नोटिस जारी किया गया है ताकि वो कहीं विदेश ना भाग सके.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें