scorecardresearch
 

राजस्थान: बच्चे ने नहीं किया होमवर्क तो दरिंदा बना बाप, 8 साल के मासूम को छत से टांगकर पीटा

राजस्थान के बूंदी में एक बाप ने अपने ही 8 साल के मासूम बच्चे के साथ जो किया वह शर्मनाक है. शख्स ने बच्चे के हाथ-पैर बांधकर उसे छत से लटका दिया और फिर बुरी तरह पीटा. बच्चे का कासूर सिर्फ इतना था कि वह स्कूल का होमवर्क किए बिना ही खेलने निकल गया था.

Child assault Child assault
स्टोरी हाइलाइट्स
  • होमवर्क न करने पर बच्चे के साथ बर्बरता
  • 8 साल के मासूम को छत से टांगकर पीटा

राजस्थान के बूंदी जिले से एक ऐसी घटना सामने आई है, जिसपर यकीन करना आसाना नहीं. दरअसल, यहां एक बाप ने अपने ही 8 साल के मासूम बच्चे के साथ जो किया वह शर्मनाक है. शख्स ने बच्चे के हाथ पैर बांधकर उसे छत से लटका दिया और फिर बुरी तरह पीटा.

बच्चे का कासूर सिर्फ इतना था कि वह स्कूल का होमवर्क किए बिना ही खेलने निकल गया था. मामला तब सामने आया जब अपने पति को ऐसा करने से रोकने में असमर्थ रही बच्चे का मां ने इस सब का वीडियो बनाकर वायरल कर दिया. 

वायरल हुआ वीडियो तो सामने आया मामला 

एजेंसी की खबर के मुताबिक, घटना बूंदी जिले के डाबी पुलिस स्टेशन के नरोली गांव की है. मामला सामने आने के बाद बाल अधिकार सुरक्षा के लिए राजस्थान राज्य समिति (RSCPCR) ने जिला सुप्रीटेंडेट को कड़ी कार्रवाई के निर्देश दिए हैं.  खान में काम करने वाले आरोप मजदूर पुष्कर प्रजाप्त ने अपने 5वीं कक्षा में पढ़ने वाले बच्चे के साथ ये बर्बरता की थी. पुष्कर की पत्नी ने पूरे मामले का वीडियो बनाकर चित्तौड़ में रहने वाले अपने भाई चंद्रभान प्रजाप्त को भेज दिया, जिसके बाद ये वीडियो वायरल हुआ. चंद्रभान ने वीडियो मिलते ही चित्तौड़ जिले के लोकल पुलिस स्टेशन में रिपोर्ट दर्ज कराई. 

हालांकि, वहां पुलिस ने दूसरे क्षेत्र का मामला बताकर कार्रवाई से इंकार कर दिया. इसके बाद चंद्रभान ने चाइल्डलाइन कॉर्डिनेटर भूपेंद्र सिंह से बात की तो उन्होंने मामला बूंदी की अपनी ब्रांच को बढ़ा दिया. बूंदी के चाइल्डलाइन कॉर्डिनेटर के जरिए मामला डाबी पुलिस स्टेशन की संज्ञान में आया. 

यह बोली पुलिस

डाबी पुलिस स्टेशन के एसएचओ महेश कुमार ने बताया कि वे जांच के लिए बच्चे के गांव गए थे लेकिन उसके घर पर ताला पाकर वापस लौट आए. उन्होंने बताया- बच्चे की मां के न मिलने के चलते हम एफआईआर नहीं लिख सके हैं. हालांकि वायरल  वीडियो RSCPCR के ध्यान में आने के बाद से उन्होने बूंदी एसपी से मामले का जांच कर तीन दिन में रिपोर्ट सौंपने के आदेश दिए हैं.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें